शालीमार बाग़ इनोवा वाले चोरो का आतंक दो बड़ी वारदातों की CCTV भी आई सामने

शालीमार बाग़ इनोवा वाले चोरो का आतंक दो बड़ी वारदातों की CCTV भी आई सामने

Visuals Detail — cctv में इनोवा और सामान लादते चोर , चोरी करते चोर , लॉक तोड़ते चोर . पीड़ित बाइट्स , FIR कॉपी, Advocate बाईट , स्पॉट आदि.

रिपोर्ट : अनिल अत्री व नसीम अहमद

दिल्ली में इनोवा वाले चोरो का आतंक और गिरोह पुलिस की पकड़ से बाहर. दिल्ली पुलिस चोरी की घटनाओ को ले रही है संजीदगी से CCTV में आने के बाद भी गिरोह पुलिस की पकड़ से बाहर. शालीमार बाग़ में दो घटनाओ को लगातार दे चुका है ये गिरोह अंजाम. दोनों बार इनोवा से ही आये चोर और हुलिया भी सेम. मतलब सेम गाडी सेम लोग वारदातों को अंजाम दे रहे है और पुलिस को चुनौती. पुलिस जब बारह घंटे तक CCTV लेने नही आई और रूचि नही दिखाई चोरी को हल्के में लिया तो आज पीड़ित परिवार प्रशांत मनचंदा एडवोकेट के माध्यम से रोहिणी कोर्ट पहुंचा और पुलिस जांच के अधिकारियो को बदलने और IPC की धाराए जोड़ने के लिए अर्जी लगाई. आरोप है की पुलिस ने हल्की धाराओं में मामला दर्ज किया है.
नकाबपोश चोरो को ये इनोवा कार में आये है और चोरी की वारदात को अंजाम दे रहे है. ये cctv है पांच दिन पहले 30 नवम्बर की और जगह है दिल्ली का शालीमार बाग़ एरिया. यहा विपिन शाहनी का गारमेंट्स का शोरूम है और इस शोरूम में सुभ साढ़े तीन बजे ये चोर घुसे और और साढ़े पांच बजे तक चोरी की वारदात को अंजाम दिया. शोरूम मालिक की माने तो करीब बाईस लाख का गारमेंट्स ये चोर इनोवा कार में चोरी कर ले गये. मालिक विपिन शाहनी को सुबह सात बजे तब पता लगा जब एक राहगीर ने बोर्ड पर नम्बर देखकर सूचना दी की आपके शोरूम का ताला टूटा है. कुल छे लोग इनोवा कार में सवार होकर आये है और चेहरा ढका हुआ है टीन चोर अंदर से सामान निकाल रहे है और तीन गाडी में सवार है. पीड़ित का आरोप है पुलिस ने मामला गम्भीरता से नही लिया और cctv तक नही ली गई. बाद में cctv भी खुद पीड़ित शोरूम मालिक जाकर पुलिस को देकर आया.

                                                                   Shalimar Bag Theft Matter

                                         Advocate Prashant Manchanda and his Teem at Shalimar Bag Theft Matter

Shalimar Bag Theft Matter

FIR Shalimar Bag Theft Matter

जब विपिन शाहनी को पुलिस का रैवैया हल्का लगा और गम्भीरता से नही लिया और इसी बीच कल सोमवार को भी कुछ ही दूरी पर एक इलेक्ट्रोनिक शोरूम में सेम उसी गिरोह ने चोरी को अंजाम दे दिया और चौकीदार और मालिक के आने पर रिवाल्वर से फायरिंग करते हुए ये गिरोह भगा गया. विपिन शाहनी के गारमेंट्स में भी जो धाराए पुलिस ने लगाई वे धाराए हल्की है इसलिए पुलिस के कारवाई से विपिन शाहनी नाराज है और पहली घटना के बाद पुलिस सचेत नही हुई चोरो ने फिर थोड़ी दूरी पर दूसरी वारदात को अंजाम दे दिया अब विपिन शाहनी अपने एडवोकेट प्रशांत मनचंदा के माध्यम से रोहिणी कोर्ट में FIR में IPC की धाराए जोड़ने और जांच अधिकारी बदलने की अर्जी लगाई है.
फिलहाल पूरा नार्थ-वेस्ट जिला दहशत में है कही इस इनोवा वाले गिरोह का अगला निशाना वे न बन जाए. दोनों मामलों में cctv है दोनों मामलों में चोरो का हुलिया नजर आ रहा है पर हाईटेक दिल्ली पुलिस अभी तक इस इनोवा वाले गिरोह को पकड़ नही पाई है.

Leave a Reply