दिल्ली में 80 साल के बुजुर्ग को अधमरा कर सरेराह लूटपाट की

AA News
#Pitampura_Maurya_Enclave
Report : Anil Kumar Attri

दिल्ली में क्राइम अपने शिखर पर है। लूटपाट , मारपीट मर्डर , गोली , फायरिंग यह सब आम बात हो चुकी है। दिल्ली के हालात इतने खराब हो गए हैं शायद ही पहले किसी जमाने में इतने खराब हालात हुए हो। ताजा मामले में एक 80 साल के बुजुर्ग से लुटेरे सरेआम गली में लूटपाट करते हैं। बुजुर्ग के साथ मारपीट भी करते हैं । मारपीट का और लूटपाट का काफी साफ़ वीडियो भी है। सीसीटीवी फुटेज भी बिल्कुल साफ है और बुजुर्ग को अधमरा कर जब बेहोश होकर बुजुर्ग गिर गया तो मरा हुआ ही समझ कर वे लूटेरे इनको छोड़ कर चले गए । लोगों का पुलिस से भरोसा इतना उठ गया है कि उस बुजुर्ग ने और आसपास के लोगों ने इस पूरे मामले की शिकायत पुलिस को नहीं दी। लोगों का कहना है कि सेफ्टी को लेकर शिकायतें दे कर थक चुके हैं।

Pitampura Delhi

Pitampura Delhi

पुलिस से भरोसा उठ गया है, इसलिए उन्होंने पुलिस को शिकायत देना बंद कर दिया है क्योंकि कुछ होगा ही नहीं कंप्लेंट करने पर खासकर उत्तरी पश्चिमी जिले के हालात सबसे बदतर है, यहां क्राइम 10 गुना बढ़ा हुआ बढ़ गया है लेकिन खास बात यह है कि वह कागजों में क्राइम भले ही बढ़ा नजर ना आए क्योंकि लोगों ने पुलिस को शिकायत करनी ही बंद कर दी है, क्योंकि उसमें जिला पुलिस पीड़ित को ही प्रताड़ित करती है। सीसीटीवी देखिए कितनी बुरी तरह से एक 80 साल के बुजुर्ग पर लुटेरे मारपीट करने में लगे हुए हैं जो कुछ भी बुजुर्ग के पास सब को लूट रहे हैं। घटना है उत्तरी पश्चिमी दिल्ली के पीतमपुरा की है दरअसल 80 साल का बुजुर्ग MTNL से रिटायर्ड A.K. गांधी हर रोज की तरह बीते बुधवार शाम भी पार्क में टहलने के लिए निकले ।

उनके घर की सीढ़ियों के पास ही 3 लड़कों ने इनको दबोच लिया। इनके साथ लूटपाट करने लगे बुजुर्ग ने थोड़ी सी भी हिम्मत दिखाई तो उन्होंने इतनी बुरी तरह से पीटा आप सीसीटीवी में देखिए आखिरकार जब बुजुर्ग के पेट और सीने पर लात और घूंसे लगे तो बेहोश होकर गिर गये इनके पास था वह लड़के लूट कर फरार हो गए। इसके बाद आसपास के लोगों ने बुजुर्ग को संभाला लेकिन बुजुर्ग , आरडब्लूए और स्थानीय लोगों ने इस मामले की शिकायत पुलिस को भी नहीं दी क्योंकि दिल्ली के लोगों का भरोसा दिल्ली पुलिस से पूरी तरह से उठ चुका है। खासकर उत्तरी पश्चिमी जिले के हालात तो सबसे खराब है। उत्तरी पश्चिमी जिले में लोगों ने पुलिस को शिकायत करनी भी बंद कर दी है । इतनी बड़ी घटना हुई वह भी सब सीसीटीवी कैमरे में कैद भी है, बावजूद इसके लोगों ने पुलिस को शिकायत भी नहीं दी। क्यों नहीं लोगों ने पुलिस को शिकायत दी वह आप इन्ही से बाइट में सुनिए।

आरडब्ल्यूए का कहना है कि यहां कानून व्यवस्था को लेकर उन्होंने डीसीपी को पत्र लिखें लेकिन उत्तरी पश्चिमी जिले की DCP का कोई कार्रवाई करना तो दूर पत्र का जवाब भी नहीं मिला। जो मेल डीसीपी कार्यालय में किए जाते हैं उनका जवाब भी नहीं मिलता कानूनी कार्रवाई तो दूर की बात। इस सभी से परेशान होकर अब इन लोगों का कहना है कि पुलिस में शिकायत करने का कोई फायदा नहीं ।
CCTV वीडियो

CCTV लूट वीडियो
फिलहाल किसी भी तरह की लगाम बदमाशों पर दिल्ली में नहीं लग पा रही है। यदि आप दिल्ली के रहने वाले हैं या दिल्ली से गुजर रहे हैं तो आप बिल्कुल अनसेफ है क्योंकि दिल्ली पुलिस का ध्यान इन दिनों क्राइम कंट्रोल करने में नहीं बल्कि कई दूसरी ओर है। फिलहाल देखने वाली बात होगी कि दिल्ली पुलिस लोगों का दोबारा विश्वास जीत पाएगी या एकाध हाईलाइट हुए मुद्दे को ही हल करके अपनी पीठ थपथपा आएगी।

Leave a Reply