मुखर्जी नगर थाना एरिया में साढ़े तीन साल की बच्ची से दरिंदगी

Mukhraji Nagar

Mukhraji Nagar

AA News
ढका चौक

नॉर्थ वेस्ट दिल्ली में मुखर्जी नगर के ढका चौक पर एक निजी स्कूल के खिलाफ लोगों का धरना प्रदर्शन किया।
लोगों ने साथ ही सड़क को भी जाम किया। साढ़े तीन साल बच्ची के साथ हुआ है असॉल्ट। परिजनों का आरोप है कि स्कूल में हुआ है बच्ची के साथ असॉल्ट। इसी बात से नार्थ-वेस्ट दिल्ली के लोग खासा गुस्से में है।

दरअसल नॉर्थ वेस्ट दिल्ली के एक नामी स्कूल में पर पेरेंट्स का आरोप है कि उनकी साढ़े तीन साल की छोटी सी मासूम बच्ची के साथ स्कूल में असाल्ट हुआ है। मामला दिल्ली के मुखर्जी नगर थाना एरिया का है ।

पुलिस अभी तक इस केस को हल नहीं कर पाई है। पुलिस पता नहीं कर पाई है कि आखिरकार किसने बच्ची के साथ दुष्कर्म को अंजाम दिया है। पुलिस का कहना है कि उसने सीसीटीवी को भी खंगाला है स्कूल के लेकिन उसे अभी तक कोई सबूत हाथ नहीं लगा है।

दरअसल बीती 4 सितंबर को बच्ची स्कूल से आई तो उसने अपने प्राइवेट पार्ट में दर्द की शिकायत की बच्चे की मम्मी ने जब बच्ची की चड्डी बदलनी चाही तो उस पर भी खून लगा हुआ था, बच्ची के चेहरे पर भी एक दांत से काटे जाने का निशान था। देखने से मामला साफ हो गया था। सभी परिजन घबरा गए और तुरंत बच्ची को एक निजी अस्पताल में लेकर गए। निजी अस्पताल के डॉक्टर ने बताया कि यह बच्ची के साथ दुष्कर्म का मामला है तुरंत बच्ची को सरकारी अस्पताल ले जाया गया और पुलिस को सूचना दी गई ।

बच्ची के साथ रेप की पुष्टि भी हुई है लेकिन बच्ची इतनी छोटी है कि वह कुछ बता नहीं पा रही है लेकिन सवाल यहां स्कूल पर कई खड़े होते हैं किस तरह से मासूम बच्चों को किस तरह से स्कूल में अकेला छोड़ा गया था। क्यों बच्चों को नजर में नहीं रखा गया। किस जगह कैसे किसने बच्ची के साथ वारदात को अंजाम दिया यह सभी जांच का विषय है। साथ ही पुलिस स्कूल की CCTV देखने के बाद आसपास जानकार लोगों की भी जांच कर रही है हो सकता है किसी जानकार ने भी वारदात को अंजाम दिया हो। लेकिन परिजनों का आरोप है कि स्कूल काफी बड़ा नामी है और पुलिस उस स्कूल को बचाने में जुटी है।

बच्ची जैसे ही स्कूल से आई उसी दौरान यह सब मिला और बच्चे ठीक ठाक स्कूल गई थी इससे साफ है कि घटना को अंजाम तो स्कूल में ही दिया गया है। इसी बात से नाराज होकर आज बच्चे के मां बाप स्कूल के सामने सड़क पर धरना देने के लिए पहुंचे तो आसपास के गांवों से सैकड़ों लोग उस धरने में शामिल होने के लिए पहुंच गए। लोगों ने कुछ वक्त तक सड़क को भी जाम किया।

काफी पुलिस बल लगाकर वहां जनता को काबू किया गया। कहीं ना कहीं सवाल कई खड़े होते हैं कितनी हाईटेक मानी जाने वाली पुलिस 7 दिन बाद भी एक साढ़े तीन साल की मासूम बच्ची के दरिंदे को नहीं तलाश पाई है।

फिलहाल पुलिस इस मामले में कुछ भी कैमरे पर बोलने से बच रही है। आसपास के लोगों में काफी गुस्सा है और हर कोई बच्ची के इंसाफ के लिए मांग कर रहा है।

फिलहाल लोगों में रोष है
और अभी तक बच्ची के साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम देने वाले दरिंदे तक दिल्ली की हाईटेक पुलिस नहीं पहुंच पाई है। फिलहाल इस मामले में दिल्ली के बाल आयोग , दिल्ली पुलिस, दिल्ली महिला आयोग जैसी कई संस्थाएं अपने अपने स्तर पर लगी हुई है और अभी तक बच्ची को इंसाफ की इंसाफ का इंतजार है। पुलिस ने मामला तो दर्ज कर लिया लेकिन पेरेंट्स का मांग है स्कूल के खिलाफ FIR दर्ज हो।

Leave a Reply