दिल्ली में स्कूल कैब ड्राइवर ने 10 साल की मासूम के साथ किया यौन शोषण।

AA News

रिपोर्ट :- प्रभाकर राणा

लोकेशन :- मंगोल पूरी, दिल्ली

देश की राजधानी एक बार फिर से शर्मसार हुई है, जहाँ एक १० साल की बच्ची के साथ योन शोषण किया गया है. ताज़ा मामला बाहरी दिल्ली के मंगोल पूरी इलाके का है जहाँ एक 5वीं की स्कूली बच्ची से उसके स्कूल कब ड्राइवर पर यौन शोषण करने का आरोप है, जो रोज़ पिछले कई साल से बच्ची को स्कूल लाता ले जाता था. बच्ची से घटना की जानकारी मिलने पर पीड़ित परिवार ने पुलिस को सूचित किया जिसके बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी कैब ड्राइवर को गिरफ्तार कर लिया है और मामले की जाँच शुरू कर दी है……

Mangolpuri School Van

Mangolpuri School Van

दिल्ली में स्कूल कैब ड्राइवरों पर विश्वास करना मां बाप के लिए चिंता का विषय बनता जा रहा है.. लोग अपने बच्चों को पढ़ने के लिए स्कूल भेजते हैं..जिनमें से ज्यादातर बच्चो के मां-बाप ऐसे होते हैं जो अपने बच्चे को स्कूल कैब से स्कूल भेजते है…कैब ड्राइवर पर विश्वास कर अपने जिगर के टुकडे को लेन ले जाने की जिम्मेदारी सौंपते है. लेकिन जब वहीं स्कूल कैब का ड्राइवर बच्चों के साथ शोषण करने लगे तो उनपर विश्वास करना मुश्किल हो जाता है….ऐसा ही एक मामला दिल्ली के मंगोल पूरी का है …जहां अमन विहार स्थित सन्स स्माइल पब्लिक स्कुल में पढ़ने वाली 10 साल की बच्ची के साथ शोषण करने का आरोप उसके स्कूल केब ड्राइवर पर लगा है….पीड़ित बच्ची ने आप बीती बताते हुए कहा कि जब कैब के दूसरे सभी बच्चे उत्तर गए और वो अकेली कैब में रह गयी तो ड्राइवर ने उसे गाडी चलाना सिखाने की बात कहकर उसके साथ बदसलूक औऱ छेड़खानी की.. जिसके बाद घर आकर बच्ची ने अपने साथ हुए इस शोषण की बात अपनी माँ को बताई।

प्राप्त जानकारी के अनुसार पीड़ित बच्ची अपने परिवार के साथ मंगोल पूरी इलाके में रहती है और अमन विहार स्थित एक प्राइवेट स्कूल में पढ़ती है. और बीते बुधवार को स्कूल से घर आते समय बच्ची के साथ आरोपी कब ड्राइवर ने इस घिनौनी वारदात को अंजाम दिया। वही जब पीड़ित बच्ची के परिजनों को इस विषय में पता लगा तो उन्होंने तुरंत मंगोलपुरी थाना में आरोपी के खिलाफ शिकायत की औऱ मामला दर्ज करवाया…. जहाँ मामले की गंभीरता को समझते हुए मंगोल पूरी पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर उसे जेल भेज दिया है. आरोपी कैब ड्राइवर की पहचान अम्बोज निवासी मंगोल पूरी के रूप में हुई है. वही जब हमने इस मामले पर स्कूल प्रशासन से बात करने की कोशिश की तो स्कूल की तरफ से किसी ने भी बात करने से साफ़ इंकार कर दिया और फोन पर बताया की आरोपी कैब ड्राइवर प्राइवेट है और उसका स्कूल से कोई लेना देना नहीं है जबकि पीड़ित बच्ची के परिवार ने बताया कि बच्ची के एडमिशन के बाद स्कूल ने ही ये कैब उपलब्ध कराई थी..

बहरहाल मंगोल पूरी थाना पुलिस ने आरोपी कैब ड्राइवर के खिलाफ पोक्सो और यौन शोषण की धाराओं में मामला दर्जकर गिरफ्तार करने के बाद अब जेल भेज दिया है साथ ही उसकी कैब को भी जब्त कर लिया है.. वहीं ऐसे मामले सामने आने के बाद लोगों के मन में अपने बच्चों के प्रति चिंता बढ़ना लाज़मी है जिससे मां बाप, अपने बच्चों को स्कूल कैब ड्राइवर के भरोसे भेजने में हजार बार सोचेंगे… अब जरुरत है कि हम सभी छोटे बच्चो को गुड़ टच और बेड टच के बारे में जरूर समझाए और उनसे समय समय पर प्यार से जरूर बातचीत भी करें।

Leave a Reply