नीमड़ी कालोनी श्रम कार्यालय पर हुआ प्रदर्शन

श्रम कार्यालय पर भवन मजदूरों का प्रदर्शन

आज 20 दिसम्बर को ए.आई.यू.टी.यू.सी. से सम्बद्ध कर्मकार एकता केन्द्र यूनियन व भवन निर्माण यूनियन दर्भसु के सैकड़ों मजदूरों ने नीमड़ी कॉलोनी स्थित उपश्रमायुक्त के कार्यालय पर जोरदार प्रदर्शन किया। हाथो में मांग पट्टिकाएं लेकर ए.आई.यू.टी.यू.सी के सैकड़ों कार्यकर्ताओ ने अपनी माँगो के लेकर नारे लगाए।
प्रदर्शनकरियो को सम्बोधित करते हुए ए.आई.यू.टी.यू.सी. के प्रदेश सचिव एम. चोरसिया ने कहा कि श्रम विभाग भ्र्ष्टाचार में डूबा हुआ है। निर्माण मजदूरों को जो कानूनन सुविधा मिलनी चाहिए वे नहीं दी जा रही हैं।

AIUTUC

AIUTUC

ए.आई.यू.टी.यू.सी. के राष्ट्रीय सचिव मण्डल के सदस्य श्री आर.के. शर्मा ने कहा कि श्रम दफ्तर यदि मजदूर के हक सुरक्षित नहीं कर सकता है तो फिर श्रम विभाग किसके लिए है।
ए.आई.यू.टी.यू.सी. दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष हरीश त्यागी ने काकोरी के शहीदों के 90वें बलिदान दिवस को याद दिलाते हुए उन्होंने शहीद रामप्रसाद बिस्मिल व शहीद अशफ़ाक़ उल्हा खां की साझी शहादत और साझी विरासत को रखा और कहा कि दोनों अलग अलग धर्म को मानते थे लेकिन वह यह भी मानते थे कि धर्म एक निजी मामला है उसकी राजनीति से अलग रखना है इस लिए वे साथ मिल कर अग्रेजो से लड़े।साथ साथ ही 19 दिसम्बर को शहीद हुए। इसे समय मे जब धर्म के आधार पर भेदभाव बढाया जा रहा है , अपने इन महान शहीदों को याद करना बहुत जरूरी है। हमें शहीदों के

इस मौके पर श्रम उपायुक्त को भवन निर्माण मजदूरों की यूनियन के महासचिव निर्मल कुमार , कर्मकार एकता केन्द्र के नेता राकेश कुमार के साथ सुरेश कुमार , प्रेमपाल व कन्हैया लाल के एक पांच सदस्यीय प्रतिनिधि मंडल ने 10 सूत्री मांगपत्र दिया। जिसमें मांग की गई कि न्यूनतम वेतन, नियुक्ति पत्र, वेतन स्लिप, हाजरी कार्ड, छुट्टी, ई.एस.आई., पीएफ आदि से सम्बंधित सभी कानून सख्ती से लागू किया जाये । भवन निर्माण मजदूरों के लंबित दावों का निपटारा शीघ्र किया जाए और उसके कार्ड बनाने की प्रक्रिया को सरल , सुविधा जनक व समय बद्ध किया जाय , श्रम कार्यालय में व्यापत भ्र्ष्टाचार खत्म किया जाये। आदी। उप श्रमायुक्त ने प्रतिनिधि मंडल को विश्वास दिया कि वह इन सभी समस्याओं के समाधान हेतु उनसे जो बन सकेगा करेगे।

प्रदर्शनकारियों ने तय किया है कि वे अपने आंदोलन को और भी तेज करेंगे । जोशपूर्ण माहौल में प्रदर्शन का समापन हुआ।

Leave a Reply