शराब पीने के लत और शक की वजह से महिला ने की ख़ुदकुशी

देश की राजधानी दिल्ली में शराब पीने की लत और शक ने ली महिला की जान ताजा मामला दिल्ली के सुल्तानपुरी थाना क्षेत्र का है जहां पर अपने पति की शराब पीने की लत और शक करने की आदत से परेशान होकर महिला ने फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली फिलहाल आरोपी पति को पुलिस ने हिरासत में ले लिया और मामले की तफ्तीश शुरू कर दी।
रिपोर्ट :- प्रभाकर राणा / Neeraj Sharma
लोकेशन :- सुल्तान पुरी, दिल्ली

Sultanpuri Khudkushi

Sultanpuri Khudkushi

यह तस्वीर है 32 वर्षीय सपना कि जो की अब इस दुनिया में नहीं रही। सन 2011 में सपना के परिवार ने बड़े ही धूमधाम से पूरे अरमानों के साथ उसकी शादी रामबचन नाम के एक युवक के साथ कर डोली में अपने घर से विदा किया था लेकिन उन्हें क्या पता था कि जिस व्यक्ति के साथ उन्होंने अपने कलेजे के टुकड़े को सात जन्मों के बंधनों में बांधा है वही उसकी जिंदगी नर्क से भी बदतर कर देगा सपना के परिवार का आरोप है कि मृतक सपना का पति शादी के कुछ दिन बाद से ही रोज शराब पीकर उसके साथ मारपीट करता था और उस पर शक करता था जिसकी वजह से आए दिन दोनों के बीच में झगड़ा और मारपीट होती थी कई बार सामाजिक तौर पर समझौता भी किया गया लेकिन मृतक महिला का पति अपनी आदतों से बाज नहीं आया और बीते बुधवार की रात को भी उसने नशे की हालत में अपनी पत्नी के साथ मारपीट की और उसे गाली गलौज कर बुरा भला कहा इस रोज रोज की कलह से तंग आकर सपना ने अपने पति के सामने ही फांसी लगाकर अपनी जान दे दी।
वही जब महिला के पति को पुलिस अस्पताल में मेडिकल के लिए लेकर आई तो वो पूरी तरह नशे में धुत्त था और तो और ना तो उसके चेहरे पर कोई शिकन थी और ना ही उसे किसी तरह का कोई दुख था उसने बताया कि इस सब के लिए वह जिम्मेदार नहीं है उसने कहा कि हम दोनों के बीच में रोज की तरह सिर्फ छोटे-मोटे झगड़ा ही हुआ था जिसके बाद मेरी पत्नी ने फांसी लगा ली और मैं पूरी तरह से बेकसूर हूं मृतक सपना एक पढ़ी लिखी महिला थी जो कि अपने बच्चों और अपना घर चलाने के लिए बताओ और कंप्यूटर ऑपरेटर का काम करती थी । अपनी मौत के बाद अपने पीछे अपने दो बच्चे छोड़ गई हैं आप ऐसे में उसकी मौत के बाद उसके बच्चों और परिवार का रो रो कर बुरा हाल है और वह चाहते हैं कि पुलिस सपना के पति पर उचित कार्रवाई कर उन्हें इंसाफ दें।
बरहाल मौके पर पहुंची सुल्तानपुरी थाना पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर संजय गांधी अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है और मामला दर्ज कर आगे की कार्यवाही शुरु कर दी है लेकिन एक बार फिर से साफ कर दिया है कि शक और नशे तिलक किस तरह से एक परिवार को तबाह कर सकती है।

Leave a Reply