यमुना पर हिलने वाला पंटून पूल

AA News
वजीराबाद, नई दिल्ली।

दिल्ली के वजीराबाद से भजनपुरा खजूरी की तरफ जाने वाला जाने वाले पुल की मरम्मत का कार्य शुरू होने के कारण पंटूनपुल को हल्के वाहनों के लिए खोला गया है। यमुना के अंदर तैरते हुए पंटूनपुल के ऊपर से अपनी कारें गुजार कर लोग एक पर्यटन जैसा आनंद ले रहे हैं।
वीडियो

वीडियो

कुछ लोग जिन्हें वहां से किसी काम से जाना भी नहीं होता तो भी वे पंटूनपुल से गुजरकर यमुना के ऊपर पंटूनपुल पर चलने का मजा ले रहे हैं । साथ ही बीते दिन जब दिल्ली में तूफान की आशंका थी और 13 राज्यों को तूफान के लिए अलर्ट भी किया था उस वक्त पंटूनपुल पर वाहन गुजरने के लिए दिल्ली पुलिस ने मनाही भी की थी कि तूफान के दौरान अपने व्हीकल को पंटूनपुल के ऊपर से ना गुजरे। जब पंटूनपुल के ऊपर से गाड़ियां चलती है तो यह पुल ऊपर नीचे हिलता है। तैरता हुआ पानी के ऊपर यह पुल है उसके ऊपर से गाड़ियां गुजरती है। यह देखिए कुछ कैप्सूल पानी में तैर रहे हैं इन कैप्सूल के ऊपर लकडी और लोहे को मिलाकर एक हल्का पुल बनाया गया है जिसके ऊपर से पूरी यमुना नदी को दोपहिया और हल्के वाहन अपनी गाड़ियों से गुजर रहे हैं। दरअसल दिल्ली के वजीराबाद से यदि आपको यमुनापार भजन पुरा लोनी की तरफ जाना है तो पुराना पुल जारी है । यदि आपको वापिस आना है तो वापिस आने का जो हिस्सा है पुल का वह हिस्सा तोड़ दिया गया है और उस पर मरम्मत का कार्य जारी है। इसलिए वापस आने के लिए पंटूनपुल का प्रयोग किया जा रहा है। पुल के ऊपर से देखिए कैसे गाड़ियां गुजर रही है यदि तेज आंधी आए तूफान आए तो यह कैप्सूल पलट भी सकते हैं। सामान्य मौसम में कोई खतरा नहीं है और लोग इंजॉय करते हुए इसके ऊपर से अपने व्हीकल गुजार रहे हैं ।

Pantoon Pull Yamuna Delhi

Pantoon Pull Yamuna Delhi

फिलहाल पंटूनपुल तैयार किया गया है जो एक अस्थाई विकल्प है क्योंकि यहां पास में दिल्ली की सबसे बड़ी परियोजना सिग्नेचर ब्रिज भी जारी है लेकिन सिग्नेचर ब्रिज का कार्य सालों से अधर में लटका हुआ है कई बार उसके निर्माण की अंतिम तिथि के बाद आने के बावजूद भी उसका निर्माण पूरा नहीं हुआ । फिलहाल पुराने पुल का ही प्रयोग करना पड़ता है और पुराने पुल का कार्य शुरू हुआ तो यह पंटूनपुल लोगों को याद आया। पंटूनपुल ऐसे वक्त में लोगों का साथ देता है और काम आता है। जून-जुलाई में जैसे ही यमुना का लेवल मानसून में बढ़ेगा उस दौरान पंटूनपुल उस दौरान खतरा हो सकता है। जरूरत है मानसून से पहले पुराने पुल को शुरू कर दिया जाए । देखिए पूरी यमुना की चौड़ाई के ऊपर यह पुल तैयार किया गया है और इतनी दूर तक गाड़ी यहां इसके ऊपर गुजर रही है । पंटूनपुल हिलता रहता है हिलते हुए पुल के ऊपर से गाड़ियां गुजरती है । भारी व्हीकल को यहां आने की मनाही है उनका वजन यह सहन नहीं कर सकता इसलिए पंटूनपुल के दोनों तरफ बैरीकेट लगाया गया है
ऊंचाई के लिहाज से उससे ऊंचा वाहन इधर से नहीं गुजार सकता। भारी वाहनों को शहादरा ISBT की तरफ से ही आना पड़ता है लेकिन छोटे हल्के वाहन जिसमें कार , ऑटो और टू व्हीलर यहां से गुजरते हैं।

Leave a Reply