दिल्ली में चोटी काटने वाले रहस्य से हुआ मलयुद्ध

दिल्ली में चोटी काटने वाले रहस्य से हुआ मलयुद्ध
चोटी तो नही कटने दी पर परिवार के चार लोगो को आई हल्की चोटे
शरीर पर हुए रहस्यमय पंजो के निशाँन
लडकी की चोटी पिता , माता और भाई ने नही कटने दी
विचलित न हो हो सकता है परिवार का मन का बहम भी
AA News
Delhi
दिल्ली में चोटी काटने की घटनाए कम नही हो रही बल्कि नए नये रूप में सामने आ रही है … नार्थ-वेस्ट दिल्ली के स्वरूप नगर थाना एरिया के कुशक नम्बर दो गाँव में आया अजीब मामला सामने …. मलखान सिंह सुपुत्र फूल सिंह कुश्क नम्बर दो दिल्ली -36 में घटी अजीब घटना .. यहा इस परिवार की माने तो चोटी काटने वाली रहस्यमय शक्ति चोटी तो नही काट पाई पर इस परिवार की माने तो उस शक्ति से इनका जमकर झगड़ा हुआ …. इस लडकी का कहना है उसे कुछ अजीब आभास हुआ कि कोई उसके सिर के बाल खोल रहा है लडकी ने अपने बालो का जुड़ा सख्ती से पकड़ा लिया और चिल्लाने लगी .. लडकी का पिताजी , माता जी और भाई सब दौडकर आये लडकी संगीता का सिर पकड़ लिया …. लडकी चिल्लाती रही और थोड़ी देर में देखा लडकी के हाथो पर नाख़ून से कट के निशाँन .. लडकी के भाई को भी चोटे आई … लडकी की माँ को भी छाती पर निशाँन .. निशाँन नाख़ून के दिखाई दे रहे है पर इस परिवार का कहना है की रहस्मय शक्ति के पंजो के निशान है .. अब ये परिवार इस बात से खुश है कि बाल नही कटने दिए … पूरे गाँव में दहशत है .. स्थानीय निवासी सुनील कुमार ने बताया की उनका पूरा गाँव डर के साए में है …
इसी बीच एक ख़ास बात ये भी है की लडकी संगीता ने अपने पिताजी का गला भी पकड़ लिया था जिसके बारे में परिजनों का कहना है वो कोई रहस्मय शक्ति ऐसा कर रही थी .. अब आशंका है लडकी अन्धविश्वाश की बाते सुनकर डर गई हो और परिजनों के आपस में नाख़ून लग गये जिसे ये लोग कोई भूत आदि समझकर डरे हुए है और बाकी गाँव भी इस घटना को सुनकर डर गया .. हम आपसे अनुरोध करते है कि आप बिलकुल न डरे ये एक अन्धविश्वाश , बहम है और एक मनोदशा है जिसमे इंसान जैसे सूने वैसा आभास करने लगे पर वास्तव में ऐसा कुछ नही होता …
Note —-हम घटना की सौ प्रतिशत सच की पुष्टि नही करते हो सकता है मन का भ्रम भी

 

 

 

Leave a Reply