मनजीत सिंह जी.के द्वारा गुरु तेग बहादुर साहिब के अंतिम संस्कार और पवित्र कुँए के बारे में की गई टिप्पणीयां निंदनीयः दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी

मनजीत सिंह जी.के द्वारा गुरु तेग बहादुर साहिब के अंतिम संस्कार और पवित्र कुँए के बारे में की गई टिप्पणीयां निंदनीयः दिल्ली गुरुद्वारा कमेटी

AA News
New Delhi
नई दिल्ली, 27 दिसंबर

दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी ने पूर्व अध्यक्ष मनजीत सिंह जी.के द्वारा गुरु तेग बहादुर साहिब के अंतिम संस्कार और पवित्र कुँए को लेकर की गई टिप्पणीयों को बेहद निंदनीय करार देते हुए कहा है कि मनजीत सिंह जी.के को इस घोर अपराध के लिए तुरंत संगत से माफी मांगनी चाहिए।

यहां जारी किए एक बयान में कमेटी के प्रवक्ता सुदीप सिंह ने बताया कि मनजीत सिंह जी.के को पहले गुरुघर की गोलक चोरी के दोष के कारण संगत ने दिल्ली कमेटी के अध्यक्ष के पद से हटाया था। पर हैरानी वाली बात है कि इससे सबक लेने की बजाये अब मनजीत सिंह जी.के व उनकी जागो पार्टी ने गुरु साहिब के बारे में इतिहास को ही तोड़-मरोड़ कर पेश करने का घोर अपराध करना शुरु कर दिया है।

प्रवक्ता ने बताया कि जागो पार्टी ने गुरु तेग बहादुर साहिब का अंतिम संस्कार गुरु मर्यादा से ना होने का दुष्प्रचार किया है जो कि निश्चित ही एतराज़ योग्य है। उन्होंने कहा कि गुरु साहिब के बारे में इस प्रकार का दुष्प्रचार करने के पीछे मनजीत सिंह जी.के और उनकी जागो पार्टी की मंशा समझ से परे है। जिस मनजीत सिंह जी.के ने पहले गुरुद्वारा रकाबगंज साहिब की ईमारत और पवित्र कुँए को ढहाने का प्रयास किया था व संगत के पुरज़ोर विरोध के कारण यह कार्य बीच में छोड़ना पड़ा और संगत से माफी मांगनी पड़ी थी, उस जी.के द्वारा अब गुरु साहिब और पवित्र स्थानों के बारे में दुष्प्रचार की मुहिम शुरु की गई है जो कि बेहद ही दुर्भाग्यपूर्ण है।

Sudeep Singh (Spokesperson DSGMC)

Sudeep Singh (Spokesperson DSGMC)


प्रवक्ता ने कहा कि बाबा बघेल सिंह द्वारा 1783 में गुरुद्वारा साहिब का निर्माण शुरु किया था पर जागो पार्टी ने नई तारीखों का प्रचार कर संगत में दुविधा पैदा करने की कोशिश की है। उन्होंने कहा कि मनजीत सिंह जी.के और जागो पार्टी के बयानों से ऐसा लग रहा है कि वह किसी सिख विरोधी पार्टी के कथनानुसार चल रहे हैं, इसी कारण गुरुघरों और गुरु साहिबान के बारे में दुष्प्रचार की मुहिम शुरु की गई है। संगत ने जी.के व जागो पार्टी की इस तुच्छ हरकत का गंभीर नोटिस लिया है और अगर जी.के ने तुरंत इस घोर अपराध की माफी ना मांगी तो फिर संगत अगली कार्रवाई पर विचार करेगी। ये सब आरोप DSGMC प्रवक्ता सुदीप सिंह की तरफ से लगाये गए है ।

Leave a Reply