नत्थूपुरा (थाना स्वरूप नगर) मासूम की हत्या कर शूटकेश में रखा था सवा महीने से

AA News
नत्थूपुरा, नई दिल्ली

नॉर्थ – वेस्ट दिल्ली के नत्थूपुरा में सात जनवरी से गायब बच्चे का शव घर के पास ही एक घर में मिला जहां बच्चे की हत्या कर शव को एक सूटकेस में रखा गया था। पुलिस ने आसपास के सभी घरों की तलाशी ली थी लेकिन स्वरूप नगर थाना पुलिस ने जिस घर में डेड बॉडी मिली उस घर की तलाशी नहीं ली थी। साथ ही पीड़ित परिवार का कहना है कि उन्हें आरोपी पर कई दिन पहले भी शक हो गया था और पुलिस को भी इस बात की जानकारी दी थी लेकिन कहीं ना कहीं पुलिस की लापरवाही से बच्चे की हत्या तो हुई उसके बाद बल्कि उसका शव भी करीब सवा महीने बाद बरामद हुआ। हत्यारा पीड़ित परिवार का नजदीकी है जिसे बच्चा अपना चाचा मानता था और आरोपी दिल्ली में इसी परिवार के पास रहकर यूपीएससी की तैयारी करता था। जिस परिवार ने उसको दिल्ली में आसरा दिया खाना दिया उसी परिवार के सात साल के बच्चे की हत्या उस दरिंदे ने कर दी। फिलहाल पुलिस ने इस दरिंदे को गिरफ्तार कर लिया है और इसमें कितने लोग शामिल थे और क्या थी हत्या की वजह यह अभी तक पुलिस ने साफ नहीं किया है और न ही यह पीड़ित परिवार यह बात समझ पाया है।
वीडियो AA News मौका ए वारदात

वीडियो

दिल्ली के स्वरूप नगर इलाके में एक 7 साल के बच्चे की दिल दहला देने वाली वारदात में बड़ा खुलासा हुआ है। असल में 7 साल के आशीष को उसके मुँहबोले चाचा अवधेश ने 7 जनवरी को बच्चे को उस वक्त किडनैप किया जब वो घर के पास खेल रहा था, उसने बच्चे को साईकल दिलाने का लालच दिया और फिर बच्चे को किडनैप करके थोड़ी दूरी पर अपने किराए के कमरे में गला घोट कर हत्या की और फिर उसे अच्छे से पॉलीथिन में पैक करके कमरे में सूटकेस में रख दिया। इसने अपने कमरे में कुछ मरे हुए चूहे भी रखे हुए थे, जब पड़ोसियों को बदबू आती थी ये कहता था चूहा मरा हुआ है और अंदर से एक मरा चूहा लाकर भी दिखा दिया, बेहद अच्छे से पैक की थी बॉडी, कमरे में बहुत सारे परफ्यूम रखे हुए थे जिन्हें बॉडी पर छिड़कता रहता था। अवधेश ने इलाके में और बच्चे के माँ बाप को बता रखा था ये सीबीआई में है और सबके बच्चों की नौकरी लगवा देगा, और यूपीएससी अटैम्प्ट कर चुका है ये इलाके में बताता था।
पहले अवधेश बच्चे के घर में ही रहता था लेकिन बच्चे के पिता को लगा की अवधेश को ज्यादा वैल्यू दी जा रही है और पूछताछ में अवधेश ने बताया कि इलाके लोग बताते थे कि बच्चे के माता पिता उसे गाली देते है तो गुस्से में उसने मार दिया बच्चे को और 15 लाख फिरौती मांगने का प्लान था लेकिन वो बॉडी को डिकम्पोज नहीं कर पाया इसलिए फिरौती नहीं मांगी।

Nathupura Child Murder

Nathupura Child Murder

इस आरोपी दरिंदे अवधेश को यहां गली में लाया गया तो लोगो मे बड़ा गुस्सा था और गम भी। कमरे में इस शूटकेस में बच्चे की डेड बॉडी बरामद हुई। यहां पुलिस की भी बड़ी लापरवाही है क्योंकि पुलिस ने पूरी गली के घरों की तलासी ली पर दरिंदे अवधेश के घर की तलासी नही ली। साथ ही घर के दूसरे छोटे बच्चों ने बताया कि आशीष ने गायब होने से पहले बताया था कि चाचा अवधेश उसको साइकिल देगा । साथ ही CCTV में अंतिम बार उसी घर तक बच्चा दिखाई दे रहा था पर स्वरूप नगर थाना पुलिस की बड़ी लापरवाही रही कि उस घर की तलासी नही ली।

यहां पीड़ित परिवार ने सांप को दूध पिलाया । जिस शख्स को दिल्ली में आशियाना दिया और बच्चों की तरह रखा उसी दरिंदे ने बच्चे की जान ले ली। फिलहाल आरोपी दरिंदा पुलिस की गिरफ्त में है और बच्चे के शव को पोस्ट मार्टम के लिए भेज दिया है जो सात जनवरी से यहां शूटकेस में बंद था।

Leave a Reply