हरियाणा : 17 अगस्त को कंप्यूटर टीचर्स करेंगे विधानसभा का घेराव।

AA News
हरियाणा , पंचकूला

कंप्यूटर टीचर्स ने शुरू किया आमरण अनशन।

प्रदेश के स्कूलों कंप्यूटर शिक्षा में रुकावट।

वेतन वृद्धि और शिक्षा विभाग में समायोजन की माँग को लेकर कंप्यूटर टीचर्स बैठे आमरण अनशन पर।

Computure teachers

Hariyana

लंबे समय से अपनी माँगों को लेकर लड़ाई लड़ रहे प्रदेश के 2200 कंप्यूटर टीचर्स ने सरकार के ढिलमूल रैवये के चलते स्कूलों का पूर्ण बहिष्कार कर दिया है। इसके साथ ही शिक्षक संघ में अपने आंदोलन को और तेज करते हुए आमरण अनशन शुरू कर दिया। गौरतलब है प्रदेश के सरकारी स्कूलों में तकनिकी शिक्षा दे रहे कंप्यूटर टीचर लंबे समय से संघर्ष कर रहे है। 28 मई से शुरू अनिश्चितकालीन धरने को शिक्षकों ने अब आमरण अनशन में बदलकर संघर्ष को और तेज कर दिया है जिससे आने वाले समय में सरकार की मुश्किलें बढ़ने की संभावना है।

Computure teachers Hariyana

Hariyana Computure teachers

8 महीने पहले प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने खुद एक आधिकारिक बैठक कर कंप्यूटर शिक्षकों का वेतन 10 हजार से बढाकर पीआरटी स्केल के बराबर 21715 रु करने का फैसला किया था लेकिन अभी तक वेतन वृद्धि के आदेश लागू ना होना कहीं ना कहीं मनो सरकार की कार्यप्रणाली पर प्रश्न चिन्ह लगाता हुआ नजर आ रहा है।

शिक्षक संघ के महासचिव राजिव कुमार सैनी ने बताया प्रदेश में मुख्यमंत्री के लिए फैसले ही लागू नही हो रहे यह सरकार के लिए बेहद चिंता का विषय है।

कंप्यूटर शिक्षक संघ के प्रदेश अध्यक्ष बलराम धीमान ने बताया सरकार ने कंप्यूटर टीचर्स के 3216 नए पद सृजित किये है जिनकी शैक्षिणक योग्यता हम पूरा करते है, सरकार को चाहिए जल्द से जल्द 8 महीने पहले लिए गए वेतन बढ़ाने के निर्णय को लागू करे और प्रदेश के कंप्यूटर शिक्षकों को शिक्षा विभाग में एक स्थायी नीति के तहत समायोजित करे।

आमरण अनशन पर जो बैठे:-
1 शोयना गुरुग्राम
2 राजबीर कौर सिरसा
3 विकास पुनिया जींद
4 मंदीप कुमार पानीपत
5 जगदीश शर्मा भिवानी
6 विक्रम महेंद्रगढ़
7 राजबीर सिरसा
8 गौरव अम्बाला
वीडियो

वीडियो

मुख्य माँगे:-

वेतन वृद्धि के निर्णय को जल्द से जल्द लागू किया जाये।

वर्तमान में कार्यरत कंप्यूटर टीचर्स को नए पदों पर समायोजित किया जाये।

Leave a Reply