महिला की हत्या से पहले और बाद में शारीरिक संबंध बनाने की कोशिश

भलस्वा डेयरी कूड़ा बीनने वाली महिला की हत्या में खुलासा

पुलिस के साथ रहकर जांच में भी हुआ शामिल ।

36 घंटे में थाना भलस्वा डेरी पुलिस ने आरोपी को किया गिरफ्तार ।

भलस्वा डेयरी इलाके में एक कूड़ा बिनने वाली महिला की पीट पीटकर हत्या की सनसनीखेज वारदात में पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी की पहचान सौफी के रूप में हुई है। आरोपी ने वारदात से पहले और वारदात के बाद महिला से शारीरिक संबंध बनाने की कोशिश भी की थी।

रिपोर्ट – शहज़ादा हाशमी ।
लोकेशन – भलस्वा डेरी ।

आरोपी ने हत्या करने के बाद पुलिस की कार्यवाई को काफी ध्यान से देख रहा था। जब उसे लगा कि वह पकड़ा जा सकता है। वह फरार होने की कोशिश भी कर रहा था।
पुलिस सूत्रों की मानें तो भलस्वा डेयरी के बंगाली कॉलोनी इलाके में पिछले ही हफ्ते एक महिला की हत्या हुई थी। महिला की र्ईंट और डंडा मारकर हत्या करने का सनसनीखेज वारदात सामने आई थी। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिये भेज दिया। मृतक महिला की पहचान खालीदा के रूप में हुई थी। जिसके तीन बच्चे हैं और पति की मृत्यु हो चुकी है। खालीदा कूड़ा बिनने का काम करती थी। एसीपी राकेश त्यागी की देखरेख में एसएचओ विरेन्द्र सिंह के निर्देशन में इंस्पेक्टर विनय,हेड कांस्टेबल कुलदीप,विजय,कांस्टेबल जितेन्द्र और पी प्रहलाद को आरोपी को पकडऩे का जिम्मा सौंपा गया। जांच टीम ने कई संदिगध लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की। इस बीच जांच टीम ने सौफी को शक के आधार पर हिरासत में लेकर गहन पूछताछ की। सौफी ने हत्या करने की बात मान ली। पूछताछ करने पर पता चला कि आरोपी खालीदा के साथ कूड़ा बिनता था। जब दोनों कूड़ा बिन रहे थे। सौफी ने खालीदा से शारीरिक संबंध बनाने की बात सोंची थी। खालीदा ने सौफी से कहा था कि उसके पेट में पथरी है और उसे ऑपरेशन कराना है। उसको पैसों की जरूरत है। अगर वो दे देता है तो वापिस कर देगी। सौफी ने खालीदा को शारीरिक संबंध बनाने की बात कही। विरोध करने पर सौफी ने कोशिश भी की। खालीदा ने जब शोर मचाने की कोशिश की। आरोपी ने उसके सिर पर ईंट से वार किया। बेहोश होने पर पास ही पड़े डंडे से कई बार सिर पर ही वार किये। खालीदा जब मर गई। उसने अपने कपड़े उतारे और खालीदा से संबंध बनाने की कोशिश की। उसने शारीरिक छेड़छाड़ की। पकड़े जाने के डर से सौफी ने अपने कपड़े पहने और लोगों को बताया कि खालीदा की हत्या किसी ने कर दी है। पुलिस कंट्रोल रूम को फोन किया गया। सौफी ने पुलिस को गुमराह करने की काफी कोशिश भी की। वह पुलिस की जांच को देखता गया। जब उसे लगा कि वह पकड़ा जा सकता है। वह फरार होने की कोशिश भी करने लगा था। एसीपी राकेश त्यागी की देखरेख में एसएचओ विरेन्द्र सिंह के निर्देशन में इंस्पेक्टर विनय , हैड कांस्टेबल कुलदीप , विजय, कॉन्स्टेबल जितेन्द्र और पी प्रहलाद को आरोपी पकड़ने का जिम्मा सौंपा गया । और मात्र 36 घंटे के अंदर आरोपी को थाना भलस्वा डेरी पुलिस ने किया गिरफ्तार।

Bhalswa Murder

Bhalswa Murder

Leave a Reply