बवाना नहर में फिर रहस्यमय मौत

Shahbad Dairy Bawana Nahar Matter

Shahbad Dairy


AA News
शाहबाद डेरी, नई दिल्ली।

दिल्ली के रोहिणी जिले के शाहबाद डेयरी में शनिवार से गायब लड़के के लड़के का शव मिला । शव की शिनाख्त बाबासाहेब अंबेडकर अस्पताल में हुई । जिसकी डेडबॉडी दो दिन पहले 7 मार्च को बादली नहर से मिली थी । परिजनों का आरोप है लड़के की हत्या कर नहर में फेंका गया । परिजनों का आरोप पड़ोस की लड़की के परिजनों पर । लड़की के परिजनों को लड़का लड़की के आपसी संबंध को लेकर मनमुटाव था । और इसी बात को लेकर दोनों पक्षों में बीते साल 3 नवंबर को झगड़ा हुआ था ।  जिसके बाद यह 14 साल का लड़का गायब हो गया ।  परिजनों का आरोप है कि सर पर चोट के निशान भी है । और तीन मार्च को डूबने के बाद 7 मार्च को डेड बॉडी मिलने कई सवाल खड़े करता है । फिलहाल शाहबाद डेरी थाना पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है ।
Video

वीडियो इस मामले का

यह तस्वीर है 14 साल के पंकज कुमार की । पंकज कुमार आठवीं क्लास का छात्र है और सरकारी स्कूल में ही पढ़ता था ।  मात्र 14 साल की उम्र में ही वह अपने घर के पास की एक लड़की से प्यार करने लगा । लड़की के परिजनों को जब इस बात का पता चला तो काफी एतराज हुआ । यह सिलसिला कई दिनों से लगातार चल रहा था ।  लेकिन 3 मार्च को लड़की के परिजनों ने पंकज की शिकायत उसके माता-पिता से की । जिस के बाद पंकज घर से गायब हो गया । और परिजनों का आरोप है कि पंकज को सुबह गायब होने के बाद दोपहर में शाहबाद डेरी इलाके में कहीं पर देखा भी गया था । उसके बाद पंकज का फोन बंद हो गया और अभी तक कोई पता नहीं चला था । इसके बाद पंकज की गुमशुदगी दर्ज कराई गई । साथ ही लड़की के परिजनों पर भी हत्या का आरोप है । पंकज के परिजन लगातार हत्या की आशंका जता रहे थे और मामला गुमशुदगी की जगह बल्कि किडनैपिंग का दर्द करवाया गया । पंकज के शव की पहचान अंबेडकर अस्पताल में हुई है ।

दरसअल पुलिस को 7 मार्च को शाहबाद डेरी इलाके में ही नहर से मिली थी । जांच के बाद बॉडी पंकज की मिली ।  परिजनों का आरोप है कि पंकज के शरीर पर चोट के निशान है । और आपके पास भी बड़ा कष्ट है और यह सब हत्या का आरोप लड़की के परिजनों पर लगा रहे हैं

पंकज के शव को पोस्टमार्टम के बाद आज परिजनों को सौंप दिया गया है । लेकिन परिजनों का हादसे के बाद रो – रो कर बुरा हाल है और लड़की के परिजनों पर हत्या का आरोप लगा रहे हैं । लेकिन यह जांच का विषय है कि यह हत्या है यह आत्महत्या । क्योंकि पंकज के परिजनों का कहना है कि वह घर से जब गया था तो उसके बाद लड़की ने पंकज के परिजनों को बताया कि उन्हें पंकज का फोन आया है । उसने कहा है कि वह खुदकुशी करने जा रहा है ।  फोन बंद  पानी की आवाज़ भी आई थी तब लड़की को आशंका थी कि पंकज ने नहर में डूबकर खुदकुशी की है । और उसी दिन लड़की ने कहा था कि पंकज के शव को नहर में तलाश किया जाए । लेकिन पंकज के परिजनों का आरोप है कि उन्होंने पूरी नहर के आसपास देखा था । वह लगातार हर रोज नहर की तलाशी अपने आधार पर ले रहे थे । लेकिन शव 24 घंटे में तैरकर ऊपर आ जाना चाहिए था । जो 4 दिन बाद वहाँ पर कैसे मिला । अब पंकज के परिजनों का आरोप है कि हत्या 3 मार्च को नहीं बल्कि 7 तारीख के आसपास ही की गई है । तबतक पंकज को कहीं किडनैप करके रखा हो सकता है ।

यह जांच का विषय है की यह हत्या है या आत्महत्या । क्योंकि पंकज का शरीर नीला है । हो सकता है शरीर का नीलापन पानी में ज्यादा देरतक डूबे रहने के कारण हुआ हो । साथ ही शरीर में आंख पर घाव होना परिवार का आरोप है कि वह चोट का निशान है ।  यह भी हो सकता है कि डूबने के बाद जब तीन से चार दिन तक डेडबॉडी पानी में रही और गलने के बाद आंख का हिस्सा गायब हो गया हो । फिलहाल मामला जो भी हो पुलिस इसकी जांच कर रही है । और पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही पूरा मामला साफ हो पाएगा ।

Leave a Reply