निरंकारी मिशन की सतगुरु बनी सुदीक्षा

AA News
Burari Nirankari Ground

Nurankari Satguru Sudiksha

Nurankari Satguru Sudiksha

निरंकारी मिशन के सतगुरु स्वर्गीय बाबा हरदेव सिंह की छोटी बेटी सुदीक्षा को बनाया गया सद्गुरु। सद्गुरु की गद्दी आज सुदीक्षा को सौंपी गई। आज बुराड़ी के समागम ग्राऊंड में माता सविंदर हरदेव सिंह ने तिलक लगा कर इस बात की औपचारिक घोषणा की कि आज से सुदीक्षा सविंदर हरदेश सिंह निरंकारी मिशन में सतगुरु का पदभार संभालेंगी।

संत निरंकारी मिशन की सद्गुरु माता सविंदर हरदेव सिंह ने सोमवार को अपनी जिम्मेदारी से मुक्त होने का फैसला लिया… वह कनाडा में दो साल पहले निरंकारी बाबा हरदेव सिंह की सड़क हादसे में मृत्यु के बाद मिशन की गुरु बनी थीं..और अब उनकी तबियत काफी खराब होने के कारण वे मिशन द्वारा कराए जा रहे सामाजिक कार्यों में समय नही दे पा रही थी इस लिए इन्होंने आज बुराड़ी ग्राउंड में समागम के दौरान अपनी छोटी बेटी सुदीक्षा सविंदर हरदेव सिंह को अपनी जिम्मेदारी सौपते हुए मिशन में सद्गुरु का पद सौपा।

Nurankari Satguru Sudiksha

Nurankari Satguru Sudiksha

मिशन की गुरु बनने जा रहीं 33 वर्षीय सुदीक्षा के पति अवनीश सेतिया की भी कनाडा में बाबा हरदेव सिंह के साथ सड़क दुर्घटना में मृत्यु हो गई थी … उस दौरान भी सुदीक्षा को मिशन का गुरु बनाने की चर्चा जोरों से चली थी, लेकिन परिजनों में सहमति नहीं बनने के चलते हरदेव सिंह की पत्नी सविंदर हरदेव ने मिशन का गुरु बनने का निर्णय लिया, वो पिछले दो साल से मिशन की गुरु हैं।

बाबा हरदेव सिंह का कोई पुत्र नहीं है, उनकी तीन पुत्रियां है, जिनमें सुदीक्षा सबसे छोटी बेटी है… दरअसल माता सविंदर की कई माह से तबीयत खराब चल रही है। ऐसे में वो मिशन की गतिविधियों में नियमित तौर पर हिस्सा नहीं ले पा रहीं…यही कारण है कि उन्होंने स्वयं ही ये फैसला लिया कि वो मिशन से जुड़ी सभी जिम्मेदारियों से मुक्त होना चाहती है …

Leave a Reply