नरेला मिड डे मील खाने से 26 छात्राएं बीमार, क्या बोले मंत्री

AA News : Bankner Narela

Video

Video
नरेला में मिड डे मील खाने से 26 बच्चे अस्पताल में भर्ती होने के बाद दिल्ली सरकार के मंत्री राजेंद्र पाल गौतम बच्चों से मिलने पहुंचे हैं। स्कूल की लड़कियों ने बताया कि उन्होंने खाने में छिपकली देखी थी । पेरेंट्स ने कहा कि वह अपने बच्चों को स्कूलों में मिड डे मील नहीं खाने देंगे, जहर खाने से अच्छा है वह घर से ही खाना बना कर देंगे। पेरेंट्स ने कहा कि स्कूल का में दिया गया कोई भी खाना बच्चे हम नहीं खाएंगे। फिलहाल इस तरह की बढ़ती घटनाओं से पेमेंट की चिंता होना भी लाजमी है और लोगों का रुझान मिड डे मील से हट रहा है।

Narela Mid Day Meal me Lezard

Narela Mid Day Meal me Lezard

दिल्ली में नरेला के बाँकनेर के सरकारी स्कूल में मिड डे मील से बीमार बच्चों से मिलने दिल्ली सरकार के मंत्री राजेंद्र पाल गौतम पहुंचे गौतम पहुंचे। राजेंद्र पाल गौतम ने कहा कि जो संस्था मिड डे मील तैयार करके भेजती है जांच में कमी मिली तो उसको ब्लैक लिस्ट किया जाएगा। साथ ही कहा कि इंस्पेक्शन के बाद भी इस तरह की घटनाएं हो रही है तो चिंता का विषय है। गौतम ने कहा कि छोटी-छोटी संस्थाओं की जगह एक बड़ी कंपनी लाने जा रहे हैं ताकि इस तरह की घटना न हो । राजेंद्र पाल गौतम के साथ स्थानीय विधायक शरद चौहान भी थे उनका कहना था कि वह सब सीधे मुख्यमंत्री के पास जा रहे हैं और इस मामले पर पूरी चर्चा करेंगे।

Narela Bankner School Mid day meal

SRHC Narela

इस मौके पर अस्पताल में आए बच्चियों के परिजनों ने कहा कि वह अपने बच्चों को स्कूल में घर से खाना बनाकर देंगे और मिड डे मील खाने से पेरेंट्स ने बच्चों को मना कर दिया है। दिल्ली के बच्चे और पेरेंट्स आप मिड डे मील से परहेज करने लगे हैं । पेरेंट्स का कहना है कि जहरीले खाने से अच्छा है कि वह खाना ही ना खाएं। परिजन अब स्कूल में दिए जाने वाले खाने के मामले में स्कूल के टीचरों से भी नाराज़ हैं। पेरेंट्स का कहना है कि बच्चों से पहले टीचर्स को खाना चखना होता है चेक करना होता है तो टीचर बीमार क्यों नहीं हुए।

नरेला थाना पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है। साथ ही दिल्ली सरकार भी पूरे मामले की जांच कर रही है और खाना सप्लाई करने वाले संस्था के खाने को कब्जे में ले लिया गया है। फिलहाल इन बच्चों का नरेला के सत्यवादी राजा हरिश्चंद्र अस्पताल में इलाज जारी है।

Leave a Reply