मैक्स हॉस्पिटल हैदरपुर के आगे पुतला दहन और हंगामा

दिल्ली में मैक्स अस्पताल के आगे पीड़ित परिवार का धरना जारी है. पीड़ित परिवार पुलिस के समझाने पर आज बच्चे के शव को पोस्ट मार्टम के बाद लेने को तैयार हो गया है. डबल ए न्यूज के माध्यम से परिवार का आरोप है कि दिल्ली सरकार ने मैक्स को जांच में दोषी पाने के बाद लाइसेस रद्द की बात दिल्ली के केजरीवाल सरकार ने कही थी अब प्रारम्भिक जांच रिपोर्ट में अस्पताल दोषी आये दो दिन बीत गये पर अस्पताल का लाइसेस रद्द क्यों नही हुआ साथ ही परिवार गुस्से में है की डॉक्टर्स की गिरफ्तारी भी नही हुई. परिजन रात दिन अस्पताल के आगे रुके हैं और धरने पर बैठे है. आज पीड़ित परिवार ने दोनों आरोपी डॉक्टर्स के ये दो बड़े दबे पुतले बनाकर पहले पुतलो की पिटाई की फिर आग लगाकर इन पुतलो का दहन करके गुस्सा जाहिर किया.

Image in front of Remove term: Max Hospital Shalimar Bagh Haiderpur Delhi Max Hospital Shalimar Bagh Haiderpur Delhi

these 3 Image in front of Remove term: Max Hospital Shalimar Bagh Haiderpur Delhi Max Hospital Shalimar Bagh Haiderpur Delhi

शुरुआत में जिस बच्चे को डेड बताकर डेड बॉडी दी बाद में एक बच्चा जीवित निकला जिसकी पांच दिन बाद दुसरे अस्पताल में मौत हुई. इस मामले में जांच कैमेटी की प्रारम्भिक रिपोर्ट आ चुकी है जिसमे मैक्स अस्पताल को दोषी पाया गया है साथ ही पुलिस ने भी अस्पताल के खिलाफ FIR दर्ज कर ली है और मामले की जांच कर रही है. मैक्स ने लापरवाही के बाद बच्चे को मृत बताने वाले दोनों डॉक्टर्स को निलम्बित कर दिया है पर जीवित बच्चे को मृत बताकर पार्सल में पैक कर देने के मामले में पूरे देश में निजी अस्पतालों के खिलाफ गुस्सा है. फिलहाल इस मामले पर पूरे देश की नजर है कि सरकार का क्या रुख रहता है इस तरह की बड़ी बड़ी लापरवाही करने वाले अस्पतालों पर कोई कारवाई होती है या नही.

इस विडियो में परिवार की  व्यथा सूने

विडियो

Video

 

अब टीवी चैनल्स पर मैक्स के आगे धरना देखकर कुछ लोग दूसरे राज्यों से भी आने शुरू हो गये है जिनकी शिकायते है कि उनके परिवार के सदस्य की मौत भी इसी मैक्स अस्पताल की लापरवाही से हुई थी.

पीड़ित परिवार ने आज बच्चे का अंतिम संस्कार निहाल विहार के चन्दन विहार शमशान घाट में शाम पौने पांच बजे किया

Leave a Reply