गुरु गोबिंद सिंह कॉलेज पीतमपुरा में नेशनल कॉन्फ्रेंस

AA News
नई दिल्ली

देश की इकोनॉमी को लेकर दिल्ली यूनिवर्सिटी के गुरु गोविंद सिंह कॉलेज पीतमपुरा में इकॉनॉमी से जुड़ी चौथी नेशनल कांफ्रेंस का आयोजन किया गया चार साल से इस कांफ्रेंस का आयोजन कॉलेज में लगातार किया जा रहा है जिसमें देश की इकोनॉमी से जुड़े नामी लोग बच्चों के बीच में पहुंचते हैं और बच्चे अपनी जिज्ञासा के सवालों का हल उनसे पूछते हैं या आज के सेमिनार में मुख्य अतिथि योजना आयोग के पूर्व डिप्टी चेयरमैन मोंटेक सिंह अहलूवालिया थे यहां कॉलेज के कांफ्रेंस हॉल में कॉलेज के स्टूडेंट्स और स्टाफ़ सभी ने मुख्य अतिथि माउंटेन सिंह अहलूवालिया के वक्तव्य को सुना और देश की इकोनॉमी के बारे में जाना और जो सवाल स्टूडेंट्स और स्टाफ के मन में आए उन सवालों के जवाब भी मोंटेक सिंह अहलूवालिया से पूछे जिन सवालों के जवाब भी मोंटेक सिंह अहलूवालिया ने दिए। काफी सकारात्मक यह कोन्फ्रेंस गुरु गोविंद सिंह कॉलेज प्रीतमपुरा में रही। इसमें माउंटेन सिंह आहलूवालिया ने भी बताया कि मेक इन इंडिया में हम सभी आगे आएं और एग्रीकल्चर में जैसे जो शोध हो रहे हैं उस पर हम विदेशियों पर डिपेंड न रहकर सब अपनी ही जगह से हो तो बेहतर है। साथ ही युवाओं को माउंटेन सिंह अहलूवालिया ने कहा कि उनका जन्म अच्छे वक्त में हुआ है फिलहाल परिस्थिति काफी अच्छी है इस इकॉनॉमी की स्थिति को देखने के लिए इस कंपटीशन को देखने के लिए उन्होंने उन्हें बीस साल गुजारने पड़े और इन स्टूडेंट्स का यह सब कुछ ही सालों में इन्हें देखने को मिल गया। मोंटेक सिंह अहलूवालिया ने कहा कि बच्चों के बीच आकर उसे काफी अच्छा लगा पूरा कॉलेज उसने विजिट करके देखा और कहा कि हाई क्वालिटी के स्टूडेंट्स है और कॉमर्स को समझते हैं उन्होंने काफी अच्छे प्रश्न पूछे हैं और बच्चे रुचि भी ले रहे हैं जो कि एक सकारात्मक संकेत है।
वीडियो

वीडियो AA News

ये आयोजन दिल्ली यूनिवर्सिटी के इस गुरु गोविंद सिंह कॉलेज में हर साल किया जाता है और इसी तरह से अर्थ शास्त्र और बिजनिस से जुड़े बड़े-बड़े विशेषज्ञों को आमंत्रित किया जाता है। आज के विशेषज्ञों में माउंटेन सिंह अहलूवालिया मुख्य अतिथि थे और इससे पहले यहां पर देश के पूर्व प्रधानमंत्री और इकनॉमी के जाने माने लेक्चरर मनमोहन सिंह भी पहुंच चुके हैं। इससे स्टूडेंट्स को काफी कुछ सीखने को मिलता है और बड़े-बड़े विशेषज्ञों के अनुभव को जानकर बच्चों में काफी ज्ञान वृद्धि होती है।

Guru Gobind Singh College

Guru Gobind Singh College

Leave a Reply