दिल्ली का लूटेरा गैंग पकड़ा गया

दिल्ली में आउटर जिला पुलिस ने वारदात के महज 24 घंटे पूरे गैंग को धर दबोचा, एक दर्जन के करीब लूट की गाड़ियां बरामद, एक पिस्टल भी हुई रिकवर।

रिपोर्ट :- प्रभाकर राणा
लोकेशन :- आउटर जिला, दिल्ली

राजधानी दिल्ली की निहाल विहार थाना पुलिस ने मात्र 24 घंटे में लूट की वारदात को सुलझा कर गैंग को धर दबोचा और लूट की एक कार व 9 टू व्हीलर समेत करीब 1 दर्जन गाडियाँ बरामद की। पुलिस ने गैंग के सरगना समेत 4 बदमाशो को किया गिरफ्तार। जिनके कब्जे से पुलिस ने एक पिस्टल ओर लूटे है कुछ मोबाइल फोन भी रिकवर किये हैं। फिलहाल स्वतंत्रता दिवस पर मुस्तेद दिल्ली पुलिस इसे एक बड़ी कामयाबी मान रही है।

Robbers and Robbed items .. and Police teem also

Robbers and Robbed items .. and Police teem also

पुलिस की गिरफ्त में खड़े ये चारों नकाबपोश युवक लूटपाट और डकैती जैसे संगीन वारदातों को अंजाम देने के आरोपी हैं। जिन्हें आउटर जिला पुलिस की निहाल विहार थाना पुलिस ने वारदात के मात्र 24 घंटे में ही धर दबोचा। आउटर जिला डीसीपी ने जानकारी देते हुए बताया कि बीती 13 की तड़के सुबह करीब 4 बजे पुलिस को सूचना मिली कि कुछ हथियार बंद बदमाशो एक व्यक्ति से उसकी कार और मोबाइल फोन व कुछ नगद रुपये भी लूट लिए जिसके बाद निहाल विहार पुलिस हरकत में आई और acp पश्चिम विहार के नेतृत्व में sho निहाल विहार आदि की टीम को वारदात के आरोपियों का एक गुप्त सुराग मिला कि आरोपी उत्तम नगर के हस्तसाल इलाके के रहने वाले है जिसके बाद पुलिस ने वहाँ जांच शुरू की तो चोरी हुई कार और उसे चला रहे एक बदमाश को पुलिस ने धर दबोचा।
Video

Video

लूटी हुई गाड़ी के साथ पकड़े गए बदमाश ने पूछताछ में वारदात में शामिल अपने अन्य साथियों का भी पता बता दिया जोकि वहीं हस्तसाल के ही रहने वाले हैं। बाद में पुलिस ने इनकी निशान देही पर लूटी हुई कई गाडियाँ बरामद की और साथ ही पुलिस ने इनके कब्जे से एक पिस्टल और कई मोबाइल फोन आदि भी बरामद किये है। डीसीपी के अनुसार इस गैंग का सरगना सूरज नाम का युवक का जो महज 22 साल का है और उस पर लूटपाट, डकैती, चोरी आदि के करीब 20 से ज्यादा मामले दिल्ली के अलग अलग थानों में दर्ज हैं और कई बार वो जेल भी जा चुका है। और यही गैंग को ऑपरेट करता था। बाकी अन्य तीनों पकड़े गए युवकों का कोई आपराधिक रिकॉर्ड भी तक नही मिला है। जबकि एक युवक BSES में ठेकेदारी का काम करता है।

पकड़े गए सभी आरोपियों की उम्र करीब 20-22 साल है है और सभी ज्यादा पढ़े लिखे भी नही है। जिनमे से सूरज जोकि गैंग का सरगना है जोकि नाबालिग उम्र से ही अपराध की दुनिया मे आ गया था। और तब से ही लगातार एक के बाद एक जुर्म को अंजाम दे रहा है। आरोपियों में से एक ने कैमरे पर अपने आप को बेकसूर बताया और कहा कि सूरज ही गैंग चलता है हमारा इससे कोई लेना देना नही है और बताते ही वो कैमरे पर रोने लगा।

बरहाल पुलिस अब इन्हें कोर्ट के सामने पेश कर इनके रिमांड की अपील करेगी। लेकिन जिस तरह से पुलिस ने वारदात के मात्र 24 घंटे के अंदर ही इस गैंग धर दबोचा है। उसे पुलिस एक बड़ी कामयाबी के रूप में देख रही है। अगर आगे भी पुलिस इसी तरह से मुस्तेद रहेगी तो दिल्ली में अपराध को जरूर कम किया जा सकता है।

Leave a Reply