दिल्ली के बुराड़ी में फिर कोहराम

AA News
Burari Delhi

दिल्ली के बुराड़ी में बेघर होंगे काफी लोग।

बिल्डरों ने जहां फ़ैलेट्स बनाकर बेचे वो जगह तो सही पर वहां कमर्सियल फ़ैलेट्स बनाना गैर कानूनी।

यमुना किनारे रेतीली जमीन पर चार मंजिल फ़ैलेट्स बनाकर लोगो को बेचे।

कई बिल्डर्स और अधिकारियों पर हो सकती है FIR दर्ज।

दिल्ली के बुराड़ी एरिया में सुप्रीम कोर्ट की मॉनिटरिंग कमेटी द्वारा साठ से ज्यादा फ्लैटों को कुछ घंटों के अंदर ही खाली करने का नोटिस दिया गया है। ये सभी फ़ैलेट्स शक्ति इन्क्लेव के है जो रजिस्टर्ड है। इससे पहले पिछले एक सप्ताह में बड़ी संख्या में अवैध बनाये गए काफी बहुमंजिला फ़ैलेटो को गिरा दिया गया है जिनमे लोग रहने नही लगे थे। अब इन अवैध फ़ैलेटो के साथ साथ लाल डोरे में बनाए गए फ्लैटों पर भी नोटिस आने से लोग बेहद परेशान है।

Shakti Enclave Burari

Shakti Enclave Burari

लोगों ने जिंदगी भर की कमाई लगाकर यहां फ्लैट खरीदे तो किसी ने बैंक से लोन लेकर यहां फ्लैट खरीदा है शक्ति एंक्लेव लाल डोरे की जमीन में बसा हुआ है जहां पर आवास बनाया जा सकता है। यहां लोगों ने रजिस्ट्रियां भी करवाई है साथ ही हाउस टैक्स लोग दे रहे हैं। अवैध कॉलोनियों की तरह बिजली पानी तो आम बात है।
वीडियो न्यूज़

वीडियो
फिलहाल यहां साठ से ज्यादा घरों में इस तरह के नोटिस फ्लैटों में नोटिस आने से हड़कंप मचा हुआ है। बुराड़ी में काफी जगह पर लोगों के पैसे बिल्डरों द्वारा बनाई जा रही है फ्लैटों में फंस गए हैं। हालात भट्टा पारसौल जैसे बनते नजर आ रहे हैं। यदि शक्ति एंक्लेव की बात की जाए तो उनकी जमीन अवैध नहीं है वह लाल डोरे के अंदर बसा है लेकिन वहां पर लाल डोरे में रहने के लिए घर बनाना वैध होता है लेकिन यहां बिल्डरों ने बहु मंजिला बिल्डिंग बना डाली और ना ही पार्किंग आदि की दूसरी सुविधाएं दी गई। ग्रामीण इलाके के लाल डोरे में कमर्शियल प्लाट शहरों की तरह बसाकर बेच दिए गए। इन लोगों ने जब यहां पर फ्लैट खरीदे और प्रशासन ने इन फ्लैटों की रजिस्ट्री भी कर दी। तब इन्हें किसी भी विभाग ने यह नहीं कहा कि ये फ्लैट अवैध है।

अब बिल्डरों ने ये फ़ैलेट कमर्शियल तरीके से यहां पर बनाकर लोगों को बेच दिए। जब गरीबों का पैसा यहां पर लग गया यहां अपने आशियाने लोगों ने खरीद लिए तब यहां पर सुप्रीम कोर्ट की मॉनिटरिंग कमेटी का नोटिस चस्पा हो गया है कि यहां साठ से ज्यादा फ्लैटों को कुछ घंटों के अंदर खाली किया जाए इन्हें सील किया जाएगा क्योंकि जिस जमीन पर यह फ्लैट बसे हैं वह जमीन तो वैध है लेकिन इसके ऊपर जो कमर्शियल कंस्ट्रक्शन किया गया है वह अवैध है और रेतीली जमीन पर 4 मंजिल इमारतें खड़ी कर दी गई जो खतरनाक भी है।

अब स्थानीय लोग उनके साथ हुई नाइंसाफी के लिए सरकार से गुहार लगा रहे हैं और कहना है कि वे अपना आशियाना खाली नहीं कर सकते वे कहां जाएंगे। यहां दोषी तो वे अधिकारी है जिन्होंने इन सबकी रजिस्ट्री भी कर डाली।
जरूरत है उस अधिकारी पर कार्रवाई की जाए जिसने इस तरह से कमर्शियल बनाए जा रहे बहुमंजिला फ्लैटों को बनने दिया रोका नहीं और साथ ही उस बिल्डर पर भी FIR दर्ज हो जिसने यहां ये इमारतें खड़ी की। इन लोगों का क्या दोष जिन्होंने यहां रजिस्ट्री की जमीन देखते हुए अपने आशियाने खरीदे और अब इन्हें बेघर किया जा रहा है। फिलहाल यहां बुधवार से लोगों को घर खाली करवाकर सीलिंग का कार्य शुरू हो सकता है।

जरूरत है कि इसका कोई समाधान निकाला जाए। यहां लोग मॉनिटरिंग कमेटी से अनुरोध कर रहे हैं कि उनका यहां लाल डोरे में बनाए गए फ्लेक्स हैं इन पर कोई कार्यवाही न की जाए। फिलहाल अब ये लोग ने तो ठीक से सो पा रहे हैं और इन फ्लैटों में रहने वाले ये लोग न ही अपनी-अपनी ड्यूटी पर जा पा रहे है। सबको सिर्फ एक ही डर है कि उनका आशियाना छीन न जाये।

जरूरत है प्रशासन इस मामले में उस बिल्डर के खिलाफ भी FIR दर्ज करा कर अधिकारी को भी दंडित करें जो उस वक्त यहां मौजूद थे। फिलहाल यहां अधिकारी और बिल्डरों की बजाय मकान खरीदने वाले लोग ही दंडित होते नजर आ रहे हैं।
आप कोई खबर शेयर करना चाहते है तो हमे मेल करें aanewsin@gmail.com या कॉल करें 09871053198
बुराड़ी डेमोलेशन वीडियो

वीडियो खेती की जमीन पर बसे फ़ैलेट्स है उनको तोड़ा जा रहा है।

Leave a Reply