किराड़ी कूड़े को लेकर मनोज तिवारी का पुतला फूंका

आम आदमी पार्टी ने अपने समर्थकों के साथ बीजेपी और LG के खिलाफ जमकर हंगामा किया …..
रिपोर्ट :- प्रभाकर राणा
लोकेशन :- किराड़ी, (दिल्ली)

Kirari Delhi

Kirari Delhi

कूड़े के निस्तारण की निगम ने पहले व्यवस्था की नही हादसे के बाद निगम की नींद खुली और अब समाधान नजर नही आ रहा । रानी खेड़ा में डंपिंग साइट बनी तो रोहिणी और किराड़ी में भी होगा बड़ा पॉल्यूशन इसलिए अब चारो तरफ इसका विरोध शुरू हो गया है ।
राजधानी दिल्ली में कचरे को लेकर सियासत तेज होती जा रही दिल्ली के किराड़ी विधानसभा में आज आम आदमी पार्टी ने BJP और LG  के खिलाफ जमकर हंगामा ओर प्रदर्शन किया साथ ही दिल्ली BJP अध्यक्ष और सांसद मनोज तिवारी का पुतला दहन किया और अब दोनों ही पार्टी चाहे फिर वह बीजेपी हो या फिर आम आदमी पार्टी दोनों ही जमकर एक-दूसरे के खिलाफ धरना प्रदर्शन और प्रोटेस्ट कर रही हैं लेकिन ऐसे में  यह सवाल उठता है कि आख़िर यह प्रोटेस्ट किसके लिए और किसके खिलाफ है किया जा रहा है जब क्योंकि दोनों ही पार्टियां अपने अपने जगह पर सत्ता में है।
बाहरी दिल्ली के किराड़ी की सड़क पर प्रोटेस्ट करते यह लोग हैं आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ता जो कि दिल्ली के एलजी के आदेश की आदेश को लेकर आदेश को लेकर आज सड़कों पर उतर गए हैं यहां आम आदमी पार्टी के विधायक ऋतुराज झा LG और दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष और सांसद मनोज तिवारी पर निशाना साधते हुए उन्हें आड़े हाथों लिया और LG साहब के रानीखेड़ा में बनने वाली डंपिंग साइट के आदेश को बिल्कुल गलत बताया। किराडी से आम आदमी पार्टी के विधायक ऋतुराज जाने LG और बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि जहां LG साहब ने कूड़े की डंपिंग साइट बनाने के आदेश दिए हैं वहां पर करीब 5 से 6 लाख लोग रहते हैं ऐसे में वहां पर कूड़ा घर कैसे बनाया जा सकता है इसीलिए अब यह लोग आज सड़कों पर उतर कर बीजेपी और LG के खिलाफ प्रोटेस्ट कर रहे हैं साथ ही स्थानीय लोगो और आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष और सांसद मनोज तिवारी का पुतला दहन भी किया और अपना रोष प्रकट किया।
गौरतलब है कि पिछले दिनों गाजीपुर की डंपिंग साइट पर हुए हादसे के बाद दिल्ली के एलजी ने आउटर दिल्ली की रानी खेड़ा जोकि मुंडका विधानसभा में आता है वहां पर डंपिंग साइड बनाने के आदेश दिए दिए जिसके बाद जब वहां पर कचरे को डंप करने के लिए पहुंचे तो वहां के स्थानीय लोगों ने जमकर इसका विरोध किया और वह तब से लेकर अब तक लगातार इस बात का विरोध कर रहे हैं कि यहां पर कूड़ा घर नहीं बनेगा साथ ही साथ ही स्थानीय लोग अभी भी लगातार तब से ही वहां धरने पर बैठे हैं जिसके बाद फिलहाल अभी तक दिल्ली सरकार और डीडीए या फिर एमसीडी में कोई भी नई डंपिंग साइट नहीं रही है पर अब ऐसा लगता है कि इस तरह के विरोध प्रदर्शन और लगातार बढ़ती सियासत के बाद फिलहाल दिल्ली के दिल्ली का कचरा कम से कम बाहरी दिल्ली के रानीखेड़ा वाली नहीं डंपिंग साइट पर तो नहीं कम किया जा सकेगा और ऐसा लगता है कि अब इस सबके बाद सरकार की मुश्किल है और ज्यादा बढ़ सकती है ।।।।
बरहाल अब लगातार हो रहे इस तरह के विरोध प्रदर्शन और धरनों के बाद देखना होगा कि सरकार अब आगे क्या कदम उठाती है क्या दिल्ली के एलजी अपने ही आदेश को वापस ले लेंगे । या फिर इसी डंपिंग साइट को यूज किया जाएगा या फिर दोनों ही पुराने डंपिंग साइट गाजीपुर और भलस्वा को ही पुनः दोबारा से शुरू किया जाएगा अब यह आने वाला समय ही बताएगा।

Leave a Reply