सर्दी में हाथ तापते हुए घर मे लगी आग बच्चे की मौत दो घायल

सर्दी में हाथ तापते हुए घर मे लगी आग बच्चे की मौत दो घायल

AA News
रिपोर्ट : नीरज शर्मा

दिल्ली में कड़ाके की ठंड से बचने के लिए घर की अंगीठी में आग जलाकर तापते वक्त हुआ बड़ा हादसा। आग में 3 साल के बच्चे की झुलसकर मौत, एक महिला और दूसरी लड़की घायल जिन्हें रोहिणी के बाबा साहेब अंबेडकर अस्पताल से एलएनजेपी अस्पताल के बर्न वार्ड के लिए रेफर किया गया। घटना थाना शाहबाद डेरी के कृष्ण कॉलोनी की है।

Shahbad Dairy Fire

Shahbad Dairy Fire

यह मकान है रोहिणी जिले के बेगमपुर एरिया की कृष्ण कॉलोनी का यहां पेंट और सफेदी का काम करने वाले शख्स के इस घर में सर्दी से बचने के लिए महिला उसकी बेटी और 3 साल का बच्चा अंगीठी में आग जलाकर बैठे थे। तभी बच्चे ने आग को तेजी से जलाने के लिए थीनर को आग में डाला। घर पर थीनर और पेंट रखा हुआ था क्योंकि बच्चे के पिताजी पेंट का काम करते हैं। थीनर ढलते ही आग इतनी तेजी से जली कि बच्चे की झुलसकर मौत हो गई और महिला व लड़की को तुरंत अंबेडकर अस्पताल ले जाया गया जहां से प्राथमिक उपचार के बाद एलएनजेपी अस्पताल के बर्न वार्ड के लिए रेफर कर दिया गया।

पीड़ित परिवार के रिलेटिव नरेंद्र कुमार ने AA News को बताया कि आग जला रखी थी घायल हो गए दो महिला है दो बच्चे। हमें ज्यादा नहीं पता हम तो बाहर काम पर गए थे उन्हें अंबेडकर अस्पताल ले जाया गया।

Ambedhakr Hospital Rohini

Ambedhakr Hospital Rohini

दरअसल दिल्ली में ठंड का कहर काफी बढ़ा हुआ है इस ठंड से बचने के लिए लोग जगह जगह पर आग भी चलाए हुए हैं। इस घर की छत पर भी घर में रखी लकड़ियों में आज अंगीठी में आग जलाई गई थी और घर में थीनर भी रखा हुआ था जिसके डालने से यह हादसा हुआ है। इस हादसे में 3 साल के इसान नाम के बच्चे की मौत हो गई तो बच्चे को बचाते वक्त मोहिनी और रिंकी झुलस गई। आग पर तो तुरंत काबू पा लिया गया लेकिन तब तक बच्चा काफी झुलस गया था और महिला व बच्ची बचाते वक्त झुलस चुके थे। जरूरत है सर्दी के मौसम में आग जलाते वक्त सावधान रहें क्योंकि बंद कमरे में आग जलाने से भी कई बार गैस बनने से हादसे होने की खबरें आती रहती है और साथ ही पेट्रोल से भी तेज जलने वाले थीनर जैसी चीज को घर में रखना काफी खतरनाक भी है। बच्चे के सामने आग में तेल या थीनर डालने की नकल छोटे बच्चे मौका मिलने पर जरूर करते हैं इसलिए जरूरत है ऐसी चीजें बच्चो की पहुंच से दूर रहे । फिलहाल थाना शाहबाद डेरी पुलिस मामले की जांच में जुटी है और घायलों का उपचार चल रहा है और बच्चे के शव को पोस्टमार्टम के लिए रोहिणी के बाबा साहब अंबेडकर अस्पताल की मोर्चरी में भेज दिया गया है ।

Leave a Reply