मार्बल उद्योग के दिगगज आर के मार्बल ने पूरे किए 30 गौरवशाली वर्ष।

AA NEWS

NEW DELHI

आर के मार्बल ने लॉन्च किया अपना नया और सबसे बड़ा मार्बल हब ‘एक्सपीरिएंस वन’दुनिया के सबसे बड़े मार्बल उत्पादकों में से एक आर के मार्बल ने दिल्ली एनसीआर में ‘एक्सपीरिएंस वन’ का अनावरण किया’ तथा दिल्ली के मायापुरी में अपने पहले शोरूम एवं गुरूग्राम में मार्बल एम्पोरिया के लॉन्च की घोषणा की है, कंपनी के ये ऐलान मार्केट लीडर के रूप में इसकी स्थिति को और अधिक मजबूत बनाने में योगदान देंगे। वर्तमान में कंपनी राजस्थान के किशनगढ़ में सबसे बड़े मार्बल प्रोसेसिंग, सैलिंग उद्यम का स्वामित्व और प्रबंधन करती है।

RK marbles

RK marbles

 

आरके मार्बल की शुरूआत 1989 में राजस्थान के किशनगढ़ में हुई, जो भारत के मार्बल प्रोससर्स में अग्रणी है और अब 30 सालों की सफल यात्रा पूरी कर चुकी है। यह वेयरहाउस विभिन्न देशों जैसे ब्राज़ील, स्पेन, तुर्की, इटली, वियतनाम, पुर्तगाल आदि से आयातित मार्बल, ट्रेवरटाईन, ओनिक्स, लाईमस्टोन, ग्रेनाईट की व्यापक रेंज बेचेगा। वेयरहाउस में 15 लाख वर्ग फीट से अधिक आयातित मार्बल और ग्रेनाईट का स्टाक होगा, जहां एक ही छत के नीचे 400 से अधिक रंगों में मार्बल और ग्रेनाइट पेश किया जाएगा, ऐसे में यह देश के किसी महानगर में सबसे बड़ा स्टाक होगा।

 

 

वेयरहाउस में दुनिया भर से मार्बल की व्यापक और सबसे बड़े रेंज पेश की जाएगी। उपभोक्ता, इंटीरियर डिज़ाइनर, आर्कीटेक्ट, कान्ट्रेक्टर इस मेगा माल में गुणवत्तापूर्ण प्राकृतिक स्टोन्स की व्यापक रेंज में से अपनी पसंद के प्रोडक्ट चुन सकेंगे।’ रविन्द्र कुमार गुप्ता, डायरेक्टर-सेल्स एण्ड मार्केटिंग ने कहा।

RK marbles

RK marbles

गुरूग्राम में 1500 वर्गमीटर में फैला नया वेयरहाउस खोला गया है। इसमें नई स्टोन गैलेरी भी है, जहां दुनिया भर से प्राकृतिक स्टोन स्लैब पेश किए जाएंगे। एक समय में यहां 1500000 वर्गफीट स्टाॅक उपलब्ध होगा।

 

आरके मार्बल एक कोरपोरेट संस्था है, जो अपने उपभोक्ताओं को प्रतिस्पर्धी कीमतों पर सर्वश्रेष्ठ गुणवत्ता के उत्पाद उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है। कंपनी ईमानदारी, पारदर्शिता और उत्कृष्टता के साथ उपभोक्ताओं को उत्कृष्ट सेवाएं प्रदान करती है। हम अपने उपभोक्ताओं के लिए समय-समय पर नई और उत्कृष्ट पेशकश लाते रहते हैं।

 

आरके मार्बल के बारे में:

आरके मार्बल की सथापना 1989 में पाटनी ब्रदर्स द्वारा की गई, इसका नेतृत्व दूरदृष्टा श्री अशोक पाटनी के द्वारा किया जाता है, जिन्होंने अपने समर्पण तथा मैनपावर के सशक्तीकरण, आधुनिक तकनीक और पर्यावरण अनुकूल मानकों के साथ मार्बल उद्योग को नए आयाम दिए हैं। आरके ग्रुप आज मार्बल के सबसे बड़े उद्योग के रूप में अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर मान्यता प्राप्त गिनीज़ बुक वल्र्ड रिकार्ड धारक तथा इस उद्योग का निर्विवादित लीडर बन चुका है। उनकेे पास राजस्थान के उदयपुर (1991-93 -मोरवाड़ और धर्मेता गांव) तथा तलवारा में वंडर व्हाईट- 2012- में दो खनन सुविधाएं हैं, जहां खनन के लिए आधुनिक प्रक्रियाओं को अपनाया जाता है। 2008 में आरके मार्बल ने फ्लालैस व्हाईट तथा वियतनाम के येन बाई प्रोविन्स लुक येन डिस्ट्रिक्ट में कैट्स आई का अधिग्रहण किया।

 

 

राजस्थान के चित्तौढ़गढ़ ज़िले के निम्बाहेरा में स्थित वंडर सीमेंट प्लांट की लाईन 1 की शुरूआत मार्च 2012 में हुई, जिसकी उतपादन क्षमता 3.25 मिलियन टन सालाना थी, इसके बाद 2015 में लाईन 2 तथा 2019 में लाईन 3 के साथ इसकी कुल उत्पादन क्षमता 11 मिलियन टन तक पहुंच गई। आज वंडर सीमेंट की मूल कंपनी आर के मार्बल भारत का जाना-माना ब्राण्ड हैं। वंडर सीमेंट एक परफेक्ट शुरूआत का वादा करता है।

 

 

आर के ग्रुप द्वारा प्रोमोटेड, साल 2017 में शुरू किया गया वंडर होम फाइनैंस लिमिटेड एचएचबी पंजीकृत हाउसिंग कंपनी है, राजस्थान स्थित यह कंपनी होम लोन एवं बिज़नेस एमएसएमई लोन मुहैया कराती है तथा प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत अर्द्ध शहरी एवं ग्रामीण इलाकों के निम्न एवं मध्यमवर्ग को अपनी सेवाएं प्रदान करने के लिए तत्पर है।

Leave a Reply