नोएडा में हुआ ‘गुलशन कुमार फिल्म ऐंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट आॅफ इंडिया (जीकेएफटीटीआई) का उद्घाटन

AA News
नई दिल्ली

उद्घाटन समारोह में रही केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा, फिल्म निर्देशक निखिल आडवाणी, प्लेबैक सिंगर तुलसी कुमार समेत कई नामचीनों की मौजूदगी

प्रख्यात म्यूजिक कंपनी टी-सीरीज के संस्थापक एवं ‘म्यूजिक मुगल’ के नाम से प्रख्यात दिवंगत गुलशन कुमार अपने जीते-जी वैसी प्रतिभाओं को हरसंभव बेहतर प्लेटफाॅर्म मुहैया कराने के लिए प्रयासरत रहे एवं कई अनचिन्ह लोगों को उन्होंने ‘कलाकार’ का रुतबा भी दिलाया। लेकिन, उनके न रहने के बाद उनकी उम्मीदों, आकांक्षाओं एवं सपनों को साकार करने का बीड़ा पहले उनके काबिल पुत्र भूषण कुमार ने उठाया और कई फिल्में बनाकर नई पीढ़ी के कलाकारों को लाइमलाइट में लाया और आज भी पिता के अधूरे सपनों को पूरा कर रहे हैं, तो अब उन्हें इस काम में छोटी बहन एवं बाॅलीवुड की नामचीन प्लेबैक सिंगर तुलसी कुमार का साथ-सहयोग भी मिलने लगा है। दरअसल, गुलशन कुमार के आम प्रतिभाओं को भी ‘संपूर्ण कलाकार’ बनाने के सपने को साकार करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम एठाते हुए तुलसी ने उत्तर प्रदेश के नोएडा में स्थित फिल्मसिटी में ‘गुलशन कुमार फिल्म ऐंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट आॅफ इंडिया (जीकेएफटीटीआई) की स्थापना की है, जिसका उद्घाटन 27 फरवरी को केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा, नामचीन फिल्म निर्देशक निखिल आडवाणी, प्लेबैक सिंगर तुलसी कुमार, रंगकर्मी-कवि-सह-अभिनेता डाॅ. सईद आलम, गलगोटिया विश्वविद्यालय के सीईओ ध्रुव गलगोटिया की मौजूदगी में किया गया। 

Noida Filam

Noida Filam


जीकेएफटीटीआई के उद्घाटन के मौके पर केंद्रीय मंत्री महेश शर्मा ने कहा कि गुलशन कुमार खुद एक ‘काॅमनमैन’ थे, जिन्होंने अपने जीवन में फर्श से अर्श तक का सफर अपनी मेहनत, लगन, समर्पण, ईमानदारी और बेमिसाल व्यक्तित्व के दम पर किया। यही वजह रही कि जीवन एवं कारोबार के क्षेत्र में ऊंचाइयों को छूने के बावजूद वे हमेशा ‘काॅमनमैन’ ही बने रहे। इसी कारण उनकी हमेशा कोशिश रही कि वे प्रतिभाशाली ‘काॅमनमैन’ को हरसंभव मदद करें। हालांकि, आज वे हमारे बीच नहीं हैं, लेकिन जीकेएफटीटीआई की स्थापना करके तुलसी कुमार ने साबित कर दिया है कि वह भी अपने पिता के दिखाए नेकी के रास्ते एवं नक्शेकदम पर चल रही हैं। जीकेएफटीटीआई की स्थापना वाकई प्रतिभाशाली युवाओं के लिए बेहतर मंच साबित होगा, जो उनके उज्ज्वल भविष्य के निर्माण में सहायक बनेगा।’

फिल्म निर्देशक निखिल आडवाणी ने कहा कि गुलशन कुमार जी ने उस वक्त आमलोगों का साथ दिया, उनके साथ एक बड़े भाई की तरह मजबूती के साथ खड़े रहे, जब वे खुद ‘कुछ’ नहीं थे। जैसे-जैसे उनकी ताकत बढ़ी, उनके सहयोग का दायरा बढ़ता गया। उनकी सदाशयता और सहयोग से बाॅलीवुड में कई ऐसे कलाकार पैदा हुए, जो आज ‘टाॅप’ पर विराजमान हैं। मुझे यह कहने में हिचक नहीं कि गुलशन जी का आम प्रतिभाओं को संपूर्ण कलाकार बनाने जो सपना अधूरा रह गया था, जीकेएफटीटीआई को स्थापित करके तुलसी कुमार उसे संपूर्णता प्रदान करेंगी।

वहीं तुलसी कुमार ने कहा कि देश में एक से बढ़कर एक फिल्म इंस्टीट्यूट मौजूद हैं। वहां से भी कलाकार पैदा किए जा रहे हैं। लेकिन, उन फिल्म संस्थानों से जीकेएफटीटीआई बिलकुल अलग होगा, क्योंकि यहां प्रतिभाओं को केवल एक्टर, सिंगर, डायरेक्टर, कैमरामैन, स्टोरी राइटर आदि ही नहीं बनाया जाएगा, बल्कि हमारा जोर उन्हें ‘संपूर्ण’ कलाकार बनाने पर होगा। जीकेएफटीटीआई की स्थापना का मूल उद्देश्य धनोपार्जन करना नहीं, बल्कि अन्य संस्थानों से अलग राह अख्तियार करते हुए इस फील्ड में खुद को एक ‘माइलस्टोन’ के रूप में स्थापित करना होगा। जीकेएफटीटीआई में प्रतिभाशाली छात्रों को उनकी रुचि एवं प्रतिभा के कारण ही प्रवेश मिलेगा। इसके लिए बाकायदा संस्थान के नामचीन शिक्षकों के द्वारा आॅडिशन लिया जाएगा और चयनित छात्रों को ‘संपूर्ण’ कलाकार के तौर पर विकसित एवं प्रशिक्षित किया जाएगा।
The much awaited dream project “Gulshan Kumar Film & Television Institute of India” is finally launched in Noida!

   Gulshan Kumar Film & Television Institute of India  shortly known as GKFTII, the most awaited dream project of Sri Gulshan Kumar under the guidance of Smt. Sudesh Kumari is launched today along with the formal inauguration of the maiden batch of Gulshan Kumar Film & Television Institute of India, GKFTII. The event held at GKFTII, Film City Sector, Noida. Present in the launch were singer and director of GKFTII Tulsi Kumar. The maiden session was formally inaugurated by the reowned Bollywood film Producer come director Sri Nikhil Advani, along with the presence of Dr. Mahesh Sharma, Minister of State, Ministry of Culture. Dr Sayeed Alam, reowned poet, jounalist & theatre film personality and Mr.Dhruv Galgotia, CEO, Galgotia University.

   While motivating the batch of students, the personalities from entertainment industry also interacted with media and shared the uniqueness and motive of the Institute. Dr. Mahesh Sharma inspired the students and told the gathering that the field they had chosen was very fulfilling and had lots of scope. Whereas, Dr. Sayeed Alam stated, “GKFTII has all that is required for a student to be a succesful in the profession provided you are willing to pick up every bit of gem taht is given here during the training.”

   Whereas, Tulsi Kumar, seemed excited and confident for the launch of the dream project. As per her words she wanted her students to be creative and hardworking in the filed. “That is the eternal success mantra” she said. Even prof. Kalyan Sarkar, Dean of GKFTII shared his views and asked students not to be deterred by the competition in the field.

   Well, GKFTII, the next big name for garnering excellence in Film making specialism across the country offers professional training guidance in the field of film making, acting camera, journalism, photography and all other creative domains.

Leave a Reply