दोस्ती,प्यार, धोखा और फिर जानलेवा हमला।

Mangolpuri

Mangolpuri

AA News
Mangolpuri

दोस्ती,प्यार, धोखा और फिर जानलेवा हमला।
जी हां यह कोई कहानी नहीं बल्कि सच्च है। मामला बाहरी दिल्ली के मंगोलपुरी इलाके का है। यहां युवती से दोस्ती के बाद उससे एक तरफा प्यार कर शादी का सपना देख रहे सिरफिरे आशिक प्रमिका को चाकूओं से गोद दिया। युवती का कसूर सिर्फ इतना था कि उसने दूसरे युवक से दोस्ती कर ली थी। वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपित मौके से फरार हो गया। वहीं मामले की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल युवती को तुरंत नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया। जहां उसका उपचार चल रहा है। फिलहाल पुलिस हत्या के प्रयास का केस दर्ज कर आरोपित की तलाश कर रही है। जानकारी के अनुसार ज्योति (18) (बदला हुआ नाम) परिवार के साथ रोहिणी सेक्टर- 17 में रहती है। वह बी कॉम की छात्रा है। पुलिस सूत्रों के अनुसार युवती की करीब छह माह पहले आशु (20) नामक युवक से दोस्ती हुई है।

दोस्ती प्यार में बदल गई। दोनों का साथ करीब छह माह तक चला। इस बीच युवती ने एक दूसरे युवक से दोस्ती कर ली। जब आशु को इस बारे में पता चला तो उसने युवती से पूछने की कोशिश की,लेकिन युवती ने आशु से दूरी बनानी शुरू कर दी। इधर आरोपित ने युवती का पीछा करना शुरू कर दिया। पुलिस सूत्रों के अनुसार आशु से तंग आकर युवती ने अपने दूसरे प्रेमी को आशु के बारे में बताया। इधर युवती के प्रेमी ने आशु को मिलने के लिये बुलाया। मिलने का स्थान भगवान महावीर अस्पताल के पास तय हुआ। युवती के प्रेमी ने आशु को युवती के सामाने उसे समझाने का प्रयास किया। जिसपर दोनों की कहासुनी होनी लगी। इधर युवती भी अपने दूसरे प्रेमी का पक्ष ले रही थी।
जिससे गुस्साए आरोपित युवक ने चाकू निकाल कर युवती के ऊपर तबाड़तोड़ प्रहार किया। बीच-बचाव कराने आये दूसरे प्रेमी को भी आरोपित ने जान से मारने की धमकी दी और मौके से फरार हो गया। इधर युवती के प्रेमी ने मामले की सूचना पुलिस को दी। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल युवती को तुरंत प्राइवेट अस्पताल में भर्ती कराया। वहीं पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार युवती का दूसरा प्रेमी विक्रांत बीकॉम की पढ़ाई कर रहा है। वहीं आरोपित परिवार के साथ मंगोलपुरी कलां गांव में रहता है। फिलहाल मंगोलुपरी थाना पुलिस केस दर्ज कर आरोपित की तलाश कर रही है।

————————————————————————————-
वक्त की मार और पेट की भूख के लिए मजबूर 16 साल की लड़की को इस बात का इल्म ही न रहा होगा कि जिस परिचित और संबंधी से वह मदद मांग रही है वह उसको जीते जी नर्क में डाल देंगे। कुछ ऐसा ही हुआ है बाहरी दिल्ली के सुल्तानपुरी में रहने वाली 16 वर्षीय किशोरी के साथ। पीड़िता अपनी मां की सहेली के पास काम मांगने लिये गई। जिसका फायदा उठाकर आरोपित महिला ने उसे देह व्यापार में धकेल दिया। पीड़िता अच्छे बुरे से अंजान तीन दिनों तक इस नर्क की आग में झुलसती रही। इस बीच जब पीड़िता की मां को घटना का पता चला तो उसने अपनी सहेली से झगड़ा किया। झगड़ा बढ़ता देख किसी व्यक्ति ने मामले की सूचना पुलिस को दे दी। इधर मामले की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने पूरे मामले को मात्र झगड़ा न समझ कर उसकी ठीक से जांच की तो मामला देह व्यापार का निकला। बाहरी जिले के डीसीबी सेजू पी कुरूविला के अनुसार मामले को गंभीरता से लेते हुए सुल्तानपुरी एसीपी आलाप पटेल की देखरेख में एसएचओ ने एक टीम का गठन कर जांच शुरू की और उक्त मामले में सात लोगों को गिरफ्तार किया। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है। जानकारी के अनुसार 16 वर्षीय किशोरी परिवार के साथ सुल्तानुपरी इलाके में रहती है। घर की माली हालत ठीक न होने व मां की सहायता करने के लिये किशोरी ने मां की सहेली से काम की बात कही।
हजार रुपये में बेची अस्मत
किशोरी द्वारा काम मांगने पर आरोपित महिला कुसुम (बदला हुआ नाम) ने उसे काम दिलाने की बात कहीं और उसे अपने एक सहेली के पास ले गई। जिसने किशोरी के बदले उसे हजार रुपये दिये। उधर दूसरी आरोपित महिला ने किशोरी को देह व्यापार में धकेल दिया। पीड़िता के साथ गत 12 अक्टूबर से 15 अक्टूबर तक लगातार गलत काम हुआ। इधर जब पीड़िता की मां को पता चला तो उसने सहेली के साथ झगड़ा किया।
मामले को गंभीरता से लेने के बाद नर्क से निकला किशोरी
पुलिस सूत्रों के अनुसार पुलिस को सुल्तानपुरी में दोपहर में झगड़े की कॉल मिली। कॉल पर पहुंची पुलिस को मामला कुछ संदिग्ध लगा। पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए किशोरी से पूछताछ की तो पता चला मामला देह व्यापार से जुड़ा हुआ है। पुलिस ने तीन महिला समेत सात आरोपित को गिरफ्तार किया। उक्त मामले में दो आरोपित वह है जिन्होंने किशोरी के साथ दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया। आरोपितों की पहचान अभिषेक,आकाश,दो दुष्कर्म आरोपित के रूप में हुई है। फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।
——————————————————————————

Leave a Reply