CBI की रिश्वतखोरों पर छापेमारी

कोई अधिकारी या उसके दलाल वसूली के लिए तंग करें तो करें CBI या एन्टी करप्शन को शिकायत

AA News
रामपुरा, नई दिल्ली

सीबीआई ने बार और क्लब मालिकों से अवैध उगाही के आरोप में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है –इनमें एक बीजेपी का स्थानीय नेता भी शामिल है —आरोप है  की ये तीनो सरस्वती विहार एसडीएम के लिए क्लब मालिकों से सील खुलवाने के नाम पर अवैध उगाही किया करते थे —नेताजी सुभास प्लेस में एक क्लब मालिक की शिकायत पर सीबीआई की टीम ने इन्हे रंगे हाथ पकड़ा और रिश्वत के लिए दी गई रकम भी बरामद की –इसके बाद सीबीआई ने एसडीएम ऑफिस में भी रेड की और घंटों तक स्टाफ से पूछताछ की —
वीडियो

वीडियो

नार्थ दिल्ली का नेताजी सुभास प्लेस अवैध बार और क्लब और उनमें होने वाले मारपीट के लिए हमेशा चर्चा में रहा है –अभी हाल में यहाँ चल रहे अवैध बार और क्लब को सील किया गया था —आरोप है की इस सील को खुलवाने के लिए क्लब मालिकों से मोटी रकम ली जाती थी –ऐसी ही शिकायत एक क्लब मालिक ने सीबीआई को दी तो सीबीआई ने जाल बिछाकर तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया –आरोप है की ये तीनो सरस्वती विहार एसडीएम के लिए बार, क्लब।  रेस्ट्रोरेंट आदि खुलवने और बंद करने की धमकी देकर अवैध वसूली किया करते थे –नेताजी सुभास प्लेस में चल रहे ऐसे की एक क्लब ” मिक्स लाउंज ” को खुलवाने के लिए तीन लाख रुपये की मांग की गयी –आरोप है की एसडीएम डॉ विवेक ने खुद ही उन्हें ऐसा करने को कहा –सीबीआई ने जाल बिछाकर तीन लोगों को रंगे हाथ पकड़ा और उनके कब्जे से अवैध वसूली की रकम भी बरामद हुयी —

CBI Raid at SDM office

CBI Raid at SDM office

शिकायतकर्ता नरेश जैन ने बताया मेरे पास लाइसेंस है अपना बार खुलवाने के लये मैंने एसडीएम से संपर्क किया तो उन्होंने मुझे अपने हाथ से नंबर लिखकर दिया –फिर मुझे एक अनजान शख्स ने सम्पर्क किया और 3 लाख रूपये की मांग की –मैंने एक लाख दिए लाख दे दिए और फिर सीबीआई को शिकायत की –उसे रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया –उसका स्टिंग भी किया )

पकड़े गए तीन लोगों में शकूर पुर से चुनाव लड़ चुके बीजेपी नेता अनूप पवार भी है —सीबीआई की टीम ने एसडीएम ऑफिस में भी छापा मारा और कई घंटों तक पूछताछ की -के बाद एसडीएम के रीडर को भी हिरासत में ले लिया है —-दिल्ली  के नेताजी सुभास प्लेस में अवैध क्लब , बार , स्पा इतने बड़े तादाद में है की नार्थ दिल्ली के सबसे बड़े कमर्शियल हब में शुमार एनएसपी को दिल्ली की बैंकॉक कहा जाने लगा –सरस्वती विहार के इससे पूर्व एसडीएम भी ऐसे ही मामले में सस्पेंड हुए थे और अब आरोप विवेक पर लगा है –विवेक ने अवैध वसूली के लिए बाकायदा पूरी टीम तैयार  की थी –सीबीआई अब उस पूरी टीम की परत खंगालने में लगी है –इनसे की जा रही अवैध वसूली से लाइसेंस शुदा क्लब मालिक भी परेशान थे —

आरोप है की एसडीएम ने अवैध वसूली के लिए पूरा नेटवर्क तैयार कर लिया था —अब सीबीआई की टीम उसे पुरे नेटवर्क की परतें उधेडलने में लगी है –उम्मीद है की जिन बिचौलियों के माध्यम से यह अवैध उगाही का गोरखधंधा चल रहा था उन्हें बिचौलियों के माध्यम से एसडीएम भी कानून की गिरफ्त में होगा .

Leave a Reply