बाँकनेर (नरेला) में दो की हत्या तीसरे की हालत गम्भीर।

AA News
नरेला, नई दिल्ली
वीडियो

वीडियो

दिल्ली में फिर डबल मर्डर । दिल्ली के नरेला में दो युवकों की हत्या तीसरे की हालत गंभीर। हत्या की वजह अभी साफ नहीं। धारदार हथियार के साथ गोली लगने की भी आशंका। दोनों मृतक और तीसरा गम्भीर घायल नरेला थाना एरिया के बाकनेर गांव के रहने वाले । कौन थे हमलावर क्यों दिया वारदात को अंजाम अभी तक साफ नहीं। नरेला थाना पुलिस जांच में जुटी।

दिल्ली के नरेला थाना के बाँकनेर रोड पर पूरे एरिया में उस वक्त सनसनी फैल गई जब लोगों ने लामपुर अंडरपास के पास खून से लथपथ तीन लोगों को देखा। तुरंत पुलिस को सूचना दी गई जिनमें 25 साल के गोविंद और 40 साल के सतीश को डॉक्टरस ने डेड घोषित कर दिया और 30 साल के मुकेश की हालत गंभीर बनी हुई है। तीनों नरेला थाना एरिया के बाँकनेर गांव के रहने वाले हैं और एक ही परिवार से संबंध रखते हैं। दोनों मृतकों के शरीर पर धारदार हथियार के निशान है साथ में सिर में भी गहरी चोट है। यह अभी तक पूरी तरह साफ नहीं हो पाया है की धारदार हथियार के साथ साथ उनके सिर मे गोली मारी गई है या नहीं क्योंकि मौके पर कोई ऐसा चश्मदीद पुलिस के सामने नहीं आया जो हमले की जानकारी दे सके। तीसरे शख्स मुकेश की हालत गंभीर बनी हुई है वह भी बयाँन देने की हालत में नहीं है जिसे नरेला के सत्यवादी राजा हरिश्चंद्र अस्पताल से एलएनजेपी अस्पताल के लिए रेफर किया गया है।

Bankner Narela Double murder

Bankner Narela Double murder

परिजनों का कहना है कि उन्हें भी हादसे की सूचना घर पर मिली कि उनके परिवार के लोग अंडरपास के पास घायल अवस्था में पड़े हैं। जब तक वह पहुंचे पुलिस उन्हें अस्पताल के लिए लेकर निकल चुकी थी। हमला किसने किया और क्यों किया यह अभी तक मृतकों के परिजनों को भी साफ नहीं है। मामला कहीं ना कहीं आपसी रंजिश का नजर आ रहा है।

नरेला थाना एरिया के बाँकनेर गांव में इस तरह के जानलेवा हमले आम बात हो चुकी है। पिछले कुछ सालों में यहां कई मौतें आपसी रंजिश में हो चुकी है। पिछले महीने भी इसी गांव में एक युवक की हत्या गांव के ही दूसरे लड़कों द्वारा की गई थी। इससे पहले भी इस गांव में कई तरह की गैंगवार आपस में जारी है। फिलहाल इस मामले में अभी तक हत्यारों का सुराग नहीं लग पाया है और नरेला थाना पुलिस पूरे मामले की जांच में जुटी है। गोविंद और सतीश के शव को पोस्टमार्टम के लिए रोहिणी के बाबा साहब अंबेडकर अस्पताल भेज दिया है।

Leave a Reply