इस कड़ाके की ठंड में ठंडी जलधारा के नीचे बैठे हैं ये हैं तप योगी बाबा श्री श्री अनिल नाथ जी महाराज।

AA News
बख्तावरपुर पल्ला माजरा
नई दिल्ली
नीचे वीडियो में बाबा की जलधारा तपस्या देखें
वीडियो

AA News वीडियो
सर्दियों में इसी तरह 41 दिन तक लगातार ये रहते हैं ठंडी जलधारा के नीचे और भीषण गर्मी में ये अग्नि के ग्यारह धुनों के बीच करते हैं कठोर तपस्या। यह है देश के तप योगी बाबा।
ईश्वर प्राप्ति कहे या अपनी आत्मा की संतुष्टि के लिए अलग-अलग विधि विधान है कोई भंडारे और उपवास करता है तो कोई योग साधना, लेकिन कुछ लोग कठोर तपस्या तक करते हैं जिसमें अपने शरीर को काफी कष्ट देते हैं और प्रभु को प्रसन्न करने का प्रयास करते हैं जिससे उन्हें आत्मिक संतुष्टि मिलती है कि उनके आराध्य इस कठोर तपस्या से प्रसन्न होंगे।
सबकी अपनी अपनी पूजा विधि है कोई घर में पूजा करता है तो कोई पूजा के लिए घर-परिवार छोड़कर सन्यासी बन जाता है तो कुछ लोगों की मान्यता है कि अधिकस्य फलम अधिकम यानी अधिक मेहनत करने का फल अधिक मिलेगा। आजकल लोग गर्म से गर्म स्वेटर पहनते हैं इस सर्दी में कोट पहनते है, गर्म पानी से नहाते हैं लेकिन बख्तावरपुर के पास ओम विहार कॉलोनी माजरा मोड के पास ये बाबा कभी ठंडी जलधारा लेते हैं तो गर्मियों में ये आग के ग्यारह धूनों के बीच में तप करते हैं तो कभी 41 दिन तक यमुना में खड़े होकर तपस्या करते हैं।

Baba Anil Nath ji Bakhtawarpur Plla Majara Delhi

Baba Anil Nath ji Bakhtawarpur Plla Majara Delhi


ये है तप योगी बाबा अनिल नाथ जी महाराज। इस तरह 20 साल से तपस्या कर रहे हैं गर्मियों में अग्नि के बीच तो सर्दियों में ठंडे जल की धारा के बीच बाबा तपस्या करते हैं। बाबा अनिल नाथ कई बार आग पर भी चले हैं। जलते हुए आग के अंगारों पर चलते हैं। गांव के लोगों की भी बाबा पर अपार श्रद्धा है और गांव के लोगों का मानना है कि उनके काम बाबा के आशीर्वाद से ही सफल होते हैं।
फिलहाल बाबा कि ये ठंडी जलधारा जारी है और प्रभु भक्ति में बाबा लीन है।

Leave a Reply