जातिगत आरक्षण न होकर आर्थिक आधार पर सरंक्षण हो : स्वामी चक्रपाणि

जातिगत आरक्षण न होकर आर्थिक आधार पर सरंक्षण हो : स्वामी चक्रपाणि

जातिगत आरक्षण एक बड़ा मुद्दा बना हुआ है देश कभी पटेल समाज तो कभी जाट समाज जातिगत आरक्षण के लिए आंदोलन कर रहे हैं । इन सभी का कहना है या तो आरक्षण आर्थिक आधार पर सभी गरीबो को मिले यदि जातिगत ही देना है तो इन्हें भी आरक्षण मिले । क्योकि हर जाति में गरीब लोग है स्वर्ण जाती के गरीब भी आजकल भूखे तक मरने के कगार पर है पर उनको आरक्षण नही मिलता दूसरी तरफ बड़े आफिसर के बेटे तक को आरक्षण मिल जाता है क्योंकि वो एक विशेष जाति से है तो इस पर विवाद जारी है पर वोट की राजनीति के चलते किसी भी राजनीतिक दल में जातिगत आरक्षण को छूने की हिम्मत नही । आज स्वामी चक्रपाणि ने फिर जातिगत आरक्षण का विरोध किया । चक्रपाणि साउथ दिल्ली में ब्राह्मण सभा के कार्यक्रम में आये थे ।
दक्षिणी दिल्ली ब्राह्मण सभा के तत्वधान में हुआ समाज के लोगो का सम्मान समारोह आयोजित हुआ । चक्रपाणि महाराज द्वारा ब्राह्मणों को सम्मानित सम्मानित किया गया
दिल्ली एनसीआर के ब्राह्मणों को जुड़ने के लिए ब्राह्मण सभाएं समय समय पर कार्य कर रही है और समाज को एकजुट करने का प्रयास निरन्तर रहता है जिससे लोग एकसूत्र में बंध सके और समाज का उत्थान भी कर सके ।
दक्षिणी दिल्ली ब्राह्मण सभा द्वारा शिक्षिक,वरिष्ठ एवम माताओ ओर ब्राह्मण समाज के बुद्धिजीवी लोगो का सम्मान समारोह लगुना बैंकेट हाल में दीप प्रज्जलन के साथ किया गया जहाँ हजारो की संख्या में ब्राह्मण समाज के लोग एकत्रित हुए । मुख्य अतिथियो में प्रोफेसर रमेश कुमार पांडेय, वरिष्ठ अतिथियो में स्वामी चक्रपाणी महाराज सहित गिरधारी लाल शास्त्री ओर गणमान्य अतिथियो ने समाज के कार्यक्रम में भाग लिया और संस्था ने उनका भव्य स्वागत के साथ मेमन्टो ओर शोल देकर सम्मानित किया। सभी मुख्य अतिथियो ने समाज के लोगो को प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया और उनका हौसला भी बढ़ाया।ब्राह्मण समाज दक्षिणी दिल्ली समय समय पर समाज के उत्थान के लिये कार्य करता रहता है और समाज को जुड़ने के लिए अपनी पूरी टीम के साथ कार्यरत है। सभा का उद्देश्य समाज के लोगो के हितों के लिए आवाज़ उठाना साथ ही उनके हर कदम में उनका साथ देकर समाज को मजबूत करना जिससे समाज एकजुट रह सके। स्वामी चक्र पाणी महाराज ने सभी ब्राह्मणों को एकजुट होने की सलाह दी और कहा की इस तरह के सम्मान समारोहों द्वारा कार्यर्ताओं ओर समाज से जुड़े लोगों का हौशला बढ़ता है। हमे समाज को विकास के पथ पर लेकर जाना है और यह भी दिखाना है कि ब्राह्मण समाज सेवा भावन के साथ सदियों से देश की आन वान में अपना पूरा सहयोग करता है। हमे आरक्षण नही चाहिए लेकिन आरक्षण खत्म होना चाहिए और योग्यता के अनुसार उसको आंका जाए। आरक्षण नही बल्कि सरक्षण हो वो भी जाति के आधार पर नही बल्कि जिसे भी जरूरत हो उसके हिसाब से हो । चक्र पाणी महाराज ने पद्मावती फ़िल्म पर साफ कहा कि हमारा स्पष्ट रुख है कि फ़िल्म पर प्रतिबन्ध लगना चाहिए और जो भी हिन्दू धर्म पर आघात करता है उसपर कानून सख्त हो और किसी को भी खिलवाड़ करने की इजाजत ना दी जाए। और क्या कहा स्वामी चक्रपाणि ने आप डबल ए न्यूज़ पर नीचे इस वीडियो में सूने ।।
वीडियो

Video
.

Leave a Reply