दो एटीएम बूथ यूज के बाद लोगो के एकाउंट से अपने आप पैसे निकलने शुरू

वीडियो

दिल्ली में दहशत लोगो के एकाउंट से अपने आप पैसे निकलने शुरू

Delhi ATM Use k Bad Logo k paise katne shuru

Delhi ATM Use k Bad Logo k paise katne shuru

लोकेशन-कालकाजी/दिल्ली

रिपोर्ट : आशुतोष कुमार

साउथ ईस्ट दिल्ली के कालकाजी डीडीए फ्लैट और आसपास के लोगो में उस समय अफरातफरी मच गई  जब लोगों के अकाउंट से रात में 10 से 12 बजे के बीच पैसे मुंबई के अंधेरी से निकलने लगे और पैसे निकलने का मैसेज लोगों के मोबाइल पर  आने लगा मिली जानकारी के अनुसार कालकाजी के डीडीए फ्लैट में स्थित Axis Bank और इंडसइंड बैंक के एटीएम में जिन लोगों ने अपने  कार्ड को यूज़ किया है पैसे निकालने के लिए पिछले 10 या 15 दिनों में, अब उनके अकाउंट से पैसे मुंबई के अंधेरी से निकाले गए हैं  अब यह किसी की साजिश है या किशी  गिरोह का कारनामा ये तो जांच का विषय है , फिलहाल उन सभी लोगों का बुरा हाल है जिनके अकाउंट से पैसे निकले है ऐसे पीड़ित बैंक खाता धारियों की तादाद 20 से 25 की हैं जिनके अकाउंट से 10 हजार से एक लाख तक की रकम निकाली गई है । इस संबंध में कालकाजी थाने में कई पीड़ित बैंक ग्राहकों ने  कंप्लेंट दर्ज करा  दी है ।अब  प्रशन ये उठता है कि क्या इन दोनों ATM को कोई हैक कर लिया है क्या?? जो कोई भी इस ATM में अपने कार्ड को यूज कर रहे हैं उनका डाटा कॉपी करके ओ हैकर  मुंबई के अंधेरी से बैंक ग्राहकों के खातों से पैसे निकाल ले रहे है। तस्बीरों में दिख रहे ये दिल्ली के कालकाजी में स्थित दो अलग अलग बैंको के  दो एटीएम के बाहर खड़े इन लोगो का आरोप है कि पिछले कुछ दिनों में जिन लोगो ने इन दोनों एटीएम में अपने एटीएम कार्ड को यूज़ किया है उनके अकाउंट से बीते दो दिन में रात के समय तकरीबन 10 से 12 बजे की बीच मुम्बई में पैसे निकाले गए है। अब लोगो का कहना है ये तभी संभव है जब हमारे एटीएम कार्ड का डीटेल किसी को पता हो इस लिए पीड़ित लोगो का कहना है कि इस एटीएम हैक किया गया और हमारे एटीएम के डाटा को कॉपी करके हमारे अकाउंट से पैसे निकाले गए है।
हालांकि ये काम जिश किशी गीरोह या हैकर का हो, या जो लोग इसमें शामिल है वह बड़े ही शातिर हैं क्योंकि ग्राहकों के अकाउंट से पैसे रात्रि के 11 से 12 बजे निकल रहे हैं ताकि कोई कुछ कर भी ना सके और जो भी ट्रांजैक्शन हो रहे हैं उन ट्रांजेक्शनो में महज चन्द  सैकेंड का फैसला हो रहा है। हालांकि ऐसी घटनाओं से देश के बैंकिंग व्यवस्था पर भी सवाल उठता है कि जब लोगो के बैंक खातों में रखें पैसे भी सुरक्षित नहीं है तो देश की जनता किस पर भरोसा करें??

Leave a Reply