दिल्ली में कुत्ते ने बचाई मालिक की जान । वफादार कुत्ता और मालिक दोनों घायल

शुक्र की सनम तुम बेवफा निकले
वरना वफादार तो कुत्ते हुआ करते हैं

कुत्ते ने दिखाई वफादारी और बचाई मालिक ने जान । कुत्ते की हालत गम्भीर और मालिक भी अस्पताल में भर्ती । हमलावरो को पुलिस ने किया गिरफ्तार और जांच में जुटी ।

Wafadar Kutta

Wafadar Kutta

कहते है जनवार में कुत्ता मनुष्य का सबसे ज्यादा वफादार होता है। इस मतलबी दुनिया में अपने लोग अपने से दूरी बना लेते है। लेकिन कुत्ता अपने मालिक के साथ उस समय भी साथ रहता रहकर उसका साथ देता है। संकट आने पर कभी-कभी अपना साथी साथ देने की जगह भाग निकलता है। लेकिन वफादारी का तमगा लगा कुत्ता साथ नहीं छोड़ता। जी हां यह कोई कहानी नहीं बल्कि सच है। मामला बाहरी दिल्ली के मंगोलपुरी इलाके का है। यहां कुछ बदमाशों ने एक एमसीडी के कर्मचारी के उपर चाकू से तबाड़तोड़ प्रहार किया। वहीं पीड़ित के साथ उनका डॉगी (टाइसन) ने बदमाशों का जमकर मुकाबला किया। इस घटना में बदमाशों ने टाइसन के उपर भी चाकू से प्रहार किया। लेकिन घायल होने के बाद भी टाइसन बदमाशों से लड़ता रहा। वहीं चीख-पुकार सुनकर आस-पास के लोग इक्ट्ठा होने लगे। लोगों को इक्ट्ठा होता देख सभी बदमाश मौके से फरार हो गए। वहीं मामले की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने घायल राकेश को नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया। जहां उसकी हालत गंभीर बनी हुई है। वहीं परिवार वालों ने टाइसन को भी अस्पताल में भर्ती कराया। जहां उसका उपचार चल रहा है। जानकारी के अनुसार, राकेश (58) परिवार के साथ जे ब्लाक मंगोलपुरी में रहते है। राकेश एमसीडी में कार्यरत है। पुलिस सूत्रों के अनुसार, बीती देर रात राकेश घर के बाहर टाइसन को खाना खिला रहे थे। तभी पांच-छह बदमाश आये और पीड़ित के उपर चाकू से हमला करने लगे। मालिक के उपर हमला होता देख टाइसन बदमाशों पर टूट पड़ा और कई को घायल भी किया। इधर बदमाशों ने उक्त चाकू से टाइसन के उपर तीन बार प्रहार किया। घायल होने के बाद भी टाइसन बदमाशों से लड़ता रहा।
आखिरकार टाइसन की वजह से बची है राकेश की जान । राकेश की बहन नीना के अनुसार, बीती रात अगर टाइसन नहीं होता तो शायद आरोपी उनके भाई को जान से मार देते। नीना के अनुसार, वह टाइसन को बहुत छोटा से लाये थे। अब वह एक वर्ष का हो गया है। वह राकेश के हाथ से ही खाना खाता था। राकेश काम पर से आने के बाद उसे रोज खाना खिलाते और उसे टहलाने ले जाते।  साथ ही एक ही परिवार के लोगों ने दिया था इस वारदात को अंजाम । पुलिस सूत्रों के अनुसार, उक्त घटना में पुलिस ने आईपीसी की धारा 307/34 के तहत केस दर्ज कर लिया है। पुलिस मामले में एक युवक को हिरासत में लिया है। पुलिस सूत्रों के अनुसार, शुरूआती जांच में पता चला है कि हमलवार एक ही परिवार से है। राकेश के उपर हमला करने से पहले वह किसी और से झगड़ा करके आ रहे थे। वहीं सूत्रों की माने तो राकेश ने आस-पास खड़े होने वाले आसामाजिक तत्वों के बारे में शिकायत की थी। जिसकी वजह से उनके उपर हमला हुआ।

FIR copy

FIR copy

FIR copy

FIR copy

Leave a Reply