वजीरपुर : दिल्ली में प्रिंटिंग प्रेस कर्मचारी से सुप्रीम कोर्ट के पार्किंग स्टिकर्स की लूट और मालवीय नगर में सीनियर सिटीजन लेडी का मर्डर हाथ पैर बंधे हुए

वजीरपुर : दिल्ली में प्रिंटिंग प्रेस कर्मचारी से सुप्रीम कोर्ट के स्टिकर्स की लूट

SC Stickers Loot Wajirpur Delhi

SC Stickers Loot Wajirpur Delhi

दिल्ली के रोहिणी कोर्ट में मर्डर की घटना को एक ही दिन हुआ है कि आज नार्थ-वेस्ट दिल्ली के अशोक विहार थाना एरिया के वजीरपुर में प्रिंटिंग प्रेस कर्मचारी से सुप्रीम कोर्ट की पार्किंग के 121 स्टिकर्स का लिफाफा छीन लिया और स्नेचर्स बाइक से फरार हो गये. दरअसल वजीरपुर इण्डस्ट्रियल एरिया के सिद्धार्थ ग्राफिक्स से कर्मचारी दिनेश कुमार एक लिफ़ाफ़े में 121 सुप्रीम कोर्ट के स्टिकर्स लेकर निकले थे कि अचानक बाइकर्स ने लिफाफा छीन लिया और फरार हो गये.

विडियो और बाईट सुनिए

अब स्नेचर्स का मकसद स्टीकर लूटना ही था या लिफ़ाफ़े में पैसे की आशंका में स्टिकर्स लूट लिए गये ये अभी साफ़ नही हुआ है पर इतना जरुर है कि सुप्रीम कोर्ट की पार्किंग के स्टीकर का मिस यूज हो सकता है. हो सकता है किसी आतंकवादी संगठन से जुड़े किसी शख्स ने अंजाम दिया हो और लम्बे अंतराल के बाद इन स्टिकर्स का मिसयूज कर किसी वारदात को अंजाम दे दें. जरूरत है दिल्ली पुलिस अब इन लूटेरो को पकड़े. फिलहाल पुलिस ने ये साफ़ नही किया है की स्टिकर्स पूरी तरह तैयार थे या इनपर कुछ काम बाकी था. इतना तो साफ़ है इन स्टिकर्स पर अभी तक गाडी नम्बर और इश्यु करने वाले अथोरटी के साइन नही है पर पाकिंग में तैनात कर्मचारी हर गाडी के सिग्नेचर नही मिला सकते . फिलहाल दिल्ली पुलिस मामले की जांच में जुटी है.
रिपोर्ट अवधेश कुमार
मालवीय नगर में सीनियर सिटीजन लेडी का मर्डर हाथ पैर बंधे हुए, मुहं पर था कपड़ा बंधा हुआ था . घर के सामान बिखरा अलमारी खुली हुई
साउथ दिल्ली के पॉश इलाके मालवीय नगर थाना के सावित्री नगर में एक सीनियर सिटीजन लेडी का मर्डर कर दिया गया। मृतका की पहचान चन्द्रमुखी 73 के रूप में हुई है। पुलिस ने बॉडी को पोस्ट मार्टम के लिए भेज दिया है। और मामले की जांच शुरू कर दी है।
यही है वह घर जहां पर मर्डर की वारदात हुई है। मौके पर मौजूद सख्श से मिली जानकारी के अनुसार यह वारदात सावित्री नगर के फर्स्ट फ्लोर पर हुई है। चन्द्रमुखी के बेटे कुलदीप को सबसे पहले वारदात के बारे में पता चला। पहले उसने पड़ोसियों को शोर करके बुलाया फिर पुलिस को सुचना दी।
चन्द्रमुखी के बेटे ने पुलिस को बताया कि उसने देखा कि माँ के हाथ पैर बंधे हुए थे और मुहं पर कपड़ा लगा हुआ था। लूटपाट है या नही यह अभी साफ नही हुआ है। मौके पर जांच के लिए पहुंचे एडिशनल डीसीपी चिन्मय विस्वाल ने मीडिया से सिर्फ यह बताया कि अभी जांच की जा रही है कुछ भी कहना मुश्किल है।
पड़ोसियों से मिली जानकारी के अनुसार चन्द्रमुखी के पति की पहले मौत हो चुकी है। वो एमसीडी से रिटायर्ड थे। जबकि चन्द्रमुखी की एक बेटी अमेरिका, कनाडा में रहती है और एक हरियाणा में। एक बेटा यहां साथ रहता है थर्ड फ्लोर पर। ग्राउंड फ्लोर पर शॉप है, फर्स्ट पर लेडी रहती थी, सकेंड लॉक है हर थर्ड पर बेटा रहता है परिवार के साथ।

Leave a Reply