रोहिणी में कार में अगवा हुई चिल्लाती लड़की की किडनेपिंग की कोशिश हुई नाकामियाब। मनचलों की हुई जमकर धुनाई, गुस्साई भीड़ ने मनचलों की कार में लगाई आग ।

 

किडनैप आरोपियों की जलती कार

AA News
लोकेशन :- रोहिणी दिल्ली
प्रभाकर राणा

देश की राजधानी की सड़कों पर चलती कार में चीखती चिल्लाती रही लड़की और उसके साथ मनचले करते रहे गलत हरकत । मामला दिल्ली के रोहिणी का है जहां एक कार में कुछ युवक एक युवती के साथ जबरदस्ती करने की कोशिश करते रहे और लड़की की चीख सुनकर सड़क पर अपनी कार में बैठे दो युवकों ने पीछा कर कार को रोका उसके बाद हुआ जमकर हंगामा ओर गुस्साई भीड़ ने मनचलों की कार को तोड़फोड़ के बाद आग लगा दी । पब्लिक ने 2 मनचलों को पकड़कर पुलिस के हवाले किया, पुलिस जांच में जुटी ।
तस्वीरों में धु धु करती इस कार का ये नज़ारा है दिल्ली के रोहिणी सेक्टर 20-21 की सड़क का जहाँ शनिवार रात को यहां से गुजरी रही एक एक्सेंट कार में से एक लड़की के चीखने की आवाज सुनकर वहां अपनी कार में बैठे दो युवकों ने अपनी कार उस एक्सेंट कार के पीछे दौड़ा दी ओर ओवरटेक कर उस कार के आगे लगाकर उसे रोक लिया जिसके बाद अकसेंट में बैठे 3 युवक उन दोनों लोगोसे झगड़ने लगे। ओर देखते ही देखते वकहँ भीड़ जमा हो गयी और सबने देख कि इन मनचलो की कार में एक लड़की बदहवास सी पड़ी है जिसके बाद मामले की सच्चाई समझते लोगो को देर नहीं लगी ओर उन्होंने मनचलो की पिटाई कर दी। और गुस्साई भीड़ ने उनकी कार में तोड़फोड़ के बाद आग के हवाले कर दिया। 3 मनचलों में से एक युवक वहां से भागने में कामियाब रहा जबकि बाकी दोनों आरोपी मनचलों को पब्लिक में सूचना के बाद मौके पर पहुँची पुलिस के हवाले कर दिया। जिसके बाद पुलिस उन्हें बेगम पुर थाने ले गयी ।
घटनास्थल पर मौजूद चश्मदीद लोगों ने बताया कि जब लड़की कार से चिल्ला रही थी तो वहीं पर पुलिस की पीसीआर वैन भी खड़ी थी लेकिन उन्होंने उस गाड़ी का पीछा करने की ज़रा भी ज़हमत नही उठाई। और न ही मौके पर पहुँची पुलिस ने आरोपियों से कोई पूछताछ की। पुलिस के इस रैवये से स्थानीय लोगो मे खासी नाराज़गी है। स्थानीय लोगो ने बताया कि जब उन्होंने कर में मौजूद पीड़ित युवती से पूछा तो उसने बताया कि इन मनचलों ने उसे शाम करीब 7:30 बजे मंगोल पूरी इलाके से जबरन अपनी कार में बैठा लिया था और कई घंटे ये मनचले उसे जबरदस्ती कार में लेकर घूमते रहे और उसके साथ छेड़छाड़ करते रहे। और यहां आकर उसके चीखने की आवाज़ सुनकर उसे इन हैवानों से छुड़वाया। समय पर इन दोनों लोगो ने सूझबूझ दिखाते हुए मनचलों की कार का पीछा किया और इन्हें धर दबोचा। और एक लड़की की किडनेपिंग की योजना को नाकाम कर दिया।
घटना की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुँची दिल्ली पुलिस की पीसीआर के पुलिस कर्मियों से जब पुलिस की अनदेखी औऱ चश्मदीदों के आरोपो के विषय मे पूछा गया तो उन्होंने इस बाबत तो कुछ नही कहा। पर घटना के विषय मे जानकारी देते हुए बताया कि कॉल मिलते ही हम मोके पर पहुँचे हैं पर पब्लिक ने हमारे आने से पहले ही कार को आग लगा दी । और आरोपियों को पकड़कर हमें सौंप दिया
पुलिस जांच में सामने आया कि पीड़ित लड़की को मंगोल पूरी इलाके से अगवा किया गया था इसलिए अपनी सभी औपचारिकताओं को पूरा करने के बाद बेगम पुर थाना पुलिस ने ये मामला मंगोल पूरी पुलिस को सौंप दिया जिसके बाद अब मंगोल पूरी थाना पुलिस मामले को तफ़्तीश कर रही है और पता लगे में जुट गई है कि आखिर मामले की असली सच्चाई क्या है । लेकिन जिस तरह से दोनों युवकों ने बहादुरी दिखाते हुए अपनी सूझबूझ का परिचय दिया है वो सच मे काबिले तारीफ है।

Leave a Reply