पकड़ी गई दिल्ली में जहरीली सब्जियां

साहब ये अदरक है जहरीली ।

-आदर्श नगर,महेन्द्रा पार्क के गोदामों में छापेमारी ।

रंगे हाथों पकड़ी कई सौ टन तेजाब से धुली अदरक।

-कई सौ लीटर तेजाब भी जब्त ।

-आधा दर्जन गोदामों को किया सील, मालिकों की होगी गिरफ्तारी ।

-पाइजन एक्ट में आज भी बच जाते हैं आरोपी ।

अगर आप मार्केट में जाकर चमचमाती और खुबसूरत दिखाई दे रही सब्जी को खरीद रहे हैं तो सावधान हो जाएं,क्योंकि आप सब्जी नहीं अपने और अपने परिवार के लिये जहर खरीद रहे हैं।

 

रिपोर्ट – शहज़ादा हाशमी ।
लोकेशन- महिन्द्रपार्क , आदर्श नगर ।

सब्जियों को समय से पहले बाजार में लाने और उसे चमचमाती सब्जी बनाने के लिये तेजाब वाले पानी से धोया जा रहा है। भारत में ऐसे खतरनाक काम के लिये कानून ज्यादा सख्त नहीं हैं। जबकि विदेशों में ऐसे काम करने वालों को मौत की सजा तक देने का प्रावधान हैं। हैरान करने वाली बात यह है कि दिल्ली शहर समेत अन्य शहरों में ऐसी सब्जियां मंडी और बाजार में मिल रही हैं। लेकिन कोई इनको रोकने की कोशिश भी नहीं करता। लोग भी जानकर भी इन जहरीली सब्जियों को खाने को मजबूर हैं। ऐसी जहरीली सब्जियों को रोकने के लिये माडल टाउन एसडीएम विरेन्द्र सिंह ने महेन्द्रा पार्क,आदर्श नगर और बड़ोला इलाके में कुछ सब्जियों के गोदामों पर छापेमारी की। जिसके कई टन अदरक और कई सौ लीटर से ज्यादा तेजाब जब्त कर आधा दर्जन गोदामों को भी सील किया। इस पूरे मामले में दिल्ली पुलिस गोदाम मालिकों पर पाइजन एक्ट के तहत कड़ी कारवाई कर रही है।

एक लीटर तेजाब में चार सौ किलो अदरक की धुलाई

गोदाम में काम करने वाले कर्मचारियों ने बताया कि वह पिछले काफी महीने से इस काम को कर रहे हैं। वह एक बीस लीटर की बालटी में तेजाब से सौ ग्राम तेजाब उसमें डालते हैं और करीब तीन से साढ़े तीन सौ किलो अदरक की धुलाई करते हैं। धूलाई करने के बाद अदरक में चमक और लाल पन आ जाता है। जिसको साथ की साथ बोरियों में डालकर मंडी में भेज दिया जाता है। इस तरह से वह एक दिन में दो से सवा दो हजार किलो अदरक की तेजाब से धुलाई करते हैं।
20 रुपए में मिलती है तेजाब की बोतल । सुप्रीम कोर्ट की तरफ से सख्त आदेश है कि तेजाब सिर्फ लाईसेंस वाले ही बेच सकते हैं। खरीदार अपना पहचान पत्र दिखाकर यह भी बताएगा कि किस मकसद से तेजाब ले जाया जा रहा है। इन सब के बावजूद तेजाब खुले में बेचा जा रहा है। जिसका सबसे ज्यादा इस्तेमाल सब्जी बेचने वाले थोक व्यापारी कर रहे हैं। एसडीएम की अपील और सख्त कार्रवाई । मॉडल टाउन एसडीएम विरेन्द्र सिंह ने बताया कि पिछले काफी समय से हमको इस मामले में पिछले एक साल से सूचनाएं मिल रही है। जिसमें पहले भी सख्त कार्यवाई कर कई गोदामों को सील किया था। इस बार भी सूचना मिलते ही आधा दर्जन गोदामों को सील कर मालिकों पर कार्यवाई शुरू कर दी है। उन्होंने कहा कि जहरीले पानी में अदरक को धोकर बाजार में बेचने का धंधा काफी समय से यहां पर चल रहा है। उन्होंने आशंका जाहिर की कि कुछ महीने पहले ही बड़ोला और उसके आसपास के इलाके में ऐसे ही कार्यवाई में गोदाम सील किये थे। जिनके मालिक अब इन इलाकों में दोबारा से यह काम कर रहे हैं। आने वाले दिनों में ऐसे लोगों पर कार्यवाई कर गोदाम सील किये जाएंगे। उन्होंने अपील की कि लोग ऐसी सब्जियों को खाने से बचे। ये लोगों को गंभीर बीमारी देती हैं। अदरक ही नहीं दूसरी सब्जियों की चमक धमक पर नहीं जाएं। अगर ऐसी कोई सब्जी बेचता है तो पुलिस को भी सूचित करें।

Jahrili sabji

Jahrili sabji

Jahrili sabji

Jahrili sabji

डॉक्टरों की सलाह
डॉक्टरों की मानें तो ऐसी जहरीली सब्जियां खाने से किडनी,आंतों और पेट में कैंसर जैसे गंभीर बिमारी हो सकती है। मेलेकाइट ग्रीन लीवर,आंत और किडनी सहित पूरे पाचन तंत्र को नुकसान पहुंचाते हैं। ऐसे में सब्जियां व फल को सबसे पहले अच्छी तरह से धो लें। जिससे सब्जी व फल में लगा तेजाब का पानी धूल जाएं। ज्यादा चमकदार सब्जी व फल से अगर बच सकते हैं तो बचे।

Leave a Reply