रोहिणी दिल्ली : दीपावली पर छुट्टी आये फ़ौज के जवान की संदिग्ध मौत

कोई लूटपाट नही शरीर पर चोट के निशाँन एक्सीडेंट की आशंका
परिजनों ने जताया हत्या का शक
मुख्य सडक से करीब पांच किलोमीटर दूर मिला शव
AA News
Rohini Delhi
Report – Naseem Ahamad
देश की राजधानी दिल्ली में एक आर्मी के जवान की दर्दनाक मौत का मामला सामने आया है. पैतीस साल का हवलदार रजेन्द्र सिंह पठानकोट पोस्टेड था और दीपावली पर दिल्ली के रोहिणी सेक्टर सोलह में अपने घर चार दिन की छुट्टी लेकर फ़ौज से चला. हवलदार रजेन्द्र सिंह जब लुधियाना से दिल्ली की बस में बैठे तो अपने बुजुर्ग पिताजी से बात की अपनी बेटी और पत्नी से भी फोन पर बात की. लुधियाना में हवलदार रजेन्द्र सिंह की मौसी ने भी घर आने को बोला तो हवलदार रजेन्द्र सिंह ने कहा उसे दिल्ली जाकर घर पर दिवाली मनानी है और दिल्ली के लिए चल पड़े. बुधवार को लुधियाना से दिल्ली के लिए चले और रात के करीब ग्यारह बजे दिल्ली में रोहिणी की तरफ रास्ते के पहले मुकरबा चौक बाईपास पर पहुंचकर घर फोन कर कहा की वो बाईपास पहुंच गये और अगले पन्द्रह मिनट घर पहुंच जायेगे क्योकि रोहिणी सेक्टर सोलह की सरदार कालोनी यहा से काफी नजदीक है पर जब रजेन्द्र सिंह रात बारह बजे तक भी नही पहुंचे और फोन पर बेल जा रही थी पर फोन उठ नही रहा था. सुबह तक भी फोन बजता रहा. पत्नी बच्चे और बुजुर्ग पिता पूरी रात फोन करते रहे वहा से नजदीकी थाना समयपुर बादली और भलस्वा डेरी है परिजन वहां भी गये पर रजेन्द्र सिंह का कोई पता नही चला. इसके बाद रजेन्द्र सिंह का शव अगली सुबह हाईवे पर न मिलकर उससे कई किलोमीटर अंदर बख्तावरपुर रोड पर मिला. शव  बख्तावरपुर के गठबन्धन फ़ार्म हाउस के पास मिला था . शरीर पर काफी चोट के निशाँन थे कपड़े तक फट गये थे कोई लूटपाट नही हुई थी मामला एक्सीडेंट का नजर आ रहा था और अलीपुर थाना पुलिस ने एक्सीडेंट का ही अम्माला दर्ज किया है. हवलदार रजेन्द्र सिंह के पिताजी महेंद्र सिंह ने aa न्यूज़ को बताया कि जहा भी रजेन्द्र सिंह बस से उतरे हो इतना साफ़ है की वे हाईवे पर ही उतरेंगे पर अंदर की सडक पर शव कई किलोमीटर दूर कैसे गया ये रहस्य बना हुआ है और परिजनों का आरोप है कि ये एक्सीडेंट नही बल्कि मर्डर है ..

 Hawaldar Rajender Singh


Hawaldar Rajender Singh

 Hawaldar Rajender Singh


Hawaldar Rajender Singh

रजेन्द्र सिंह चार दिन की छुट्टी लेकर आये थे अब इनके परिजनों का रो रो रोकर बुरा हाल है . रजेन्द्र सिंह का परिवार रोहिणी सेक्टर सोलह की सरदार कालोनी में रहता है. रजेन्द्र सिंह की मौत की वजह कुछ भी हो पर देश के एक जवान की दीपावली के अवसर पर ये मौत काफी दुखदायी है . हवलदार रजेन्द्र सिंह के बुजुर्ग पिताजी का कहना है यदि उनका बेटा शहीद होता तो उन्हें गर्व होता पर यहा इस तरह की मौत से वो काफी दुखी है और दिल्ली पुलिस से एक्सीडेंट के अलावा दुसरे एंगल से भी जांच की मांग कर रहे हैं.

 

 

 

 

Leave a Reply